शादी के बाद भी मैं अनचुदी रह गई



loading...

काफी सारी कहानियाँ पढ़ने के बाद मैं चाहती हूँ कि अपनी आप-बीती भी मैं आपको सुनाऊँ।
मेरा नाम बेला है, मैं रांची से हूँ। मेरी शादी एक सीधे साधे चूतिया टाइप के इंसान से हुई है। शादी के बाद हम अपनी मधु चन्द्रिका मनाने मनाली गए पाँच दिनों के लिए। उन पाँच दिनों में ऐसा कुछ नहीं हुआ जिससे मुझे मज़ा आया हो! आप शायद समझ गए ! तरुन (मेरे पति) ने मुझे ढंग से नहीं चोदा- मैं अनचुदी रह गई।

मैं वापस दिल्ली आ गई और ऑफिस के काम में लग गई।
एक रोज़ बॉस ने कहा- शनिवार को आना है !

मुझसे वैसे भी शनिवार काटे नहीं कटता था क्यूंकि तरुन का शनिवार को भी ऑफिस होता है। मैं तकरीबन ग्यारह बजे ऑफिस पहुँच गई। बॉस आ चुके थे। हम दोनों ने दो बजे तक डटकर काम किया। ऑफिस में सिर्फ मेरा बॉस, मैं और ऑफिस बॉय राजू था।

मैं अपने कंप्यूटर पर कुछ काम कर रही थी कि बॉस पीछे से आकर देखने लगे और समझाने लगे कि कैसे क्या करना है। मैं उनका निर्देश लेकर काम करती रही। चूंकि बॉस बहुत पास आकर देख रहे थे, मेरा एक गाल उनके बहुत ही नज़दीक हो गया था। उनको पता नहीं क्या सूझी, उन्होंने मेरे गाल पर एक पप्पी दे दी। मैं चौंक गई।

बॉस ने कहा- बेला, तुम बहुत सुन्दर हो और मुझे तुम अच्छी लगती हो।

मैं बस उनको देखती रह गई। फिर उन्होंने मेरी बाहों पर हाथ फेरना शुरु किया। हाथ फेरते फेरते उनके हाथ मेरे गले तक पहुंचे और वे मुझे प्यार करने लगे। इतने में राजू अन्दर आया। मैंने बॉस से कहा- सर, राजू को बाहर भेजिए पहले।

बॉस खुश। इसमें मेरी हाँ जो थी।

वे बाहर गए यह कहते हुए कि तैयार रहना। मैं समझ गई कि बॉस मुझे आज चोदेगा और मैं खुश हो गई। मैंने अपनी चूत से कहा- देख निगोड़ी ! सब्र का फल मीठा होता है। आज उछल कर चुदना।

मैं सीधे बाथरूम गई, खूब मूता और अपनी चूत को खूब साफ़ किया। हल्का सा स्प्रे लगाकर मैं बाहर आ गई। इतने में बॉस अन्दर आये। और उन्होंने मुझे दीवार से टिकाकर मुझे खूब चूमा। चूमते चूमते उन्होंने मेरा ब्लाऊज उतार दिया। अब मैं ब्रा और स्कर्ट में थी। मुझे अपनी गोद में बिठाया और मेरे होटों को चूसने लगे। मैं भी कहाँ पीछे हटने वाली थी। मैं भी मस्त हो कर उनसे झूल गई। क्यों ना झूलती ! मेरी चूत में भी तो कुछ कुछ हो रहा था।

उन्होंने मुझे खड़ा किया और मेरी स्कर्ट उतार दी। मैं अब सिर्फ चड्डी और ब्रा में थी। बॉस मुझे निहार रहे थे, मैंने इनकी टी-शर्ट उतार दी और फिर उनकी जींस। बॉस का लंड तो बाहर आने के लिए कुलांचे भर रहा था। मैंने उनका लंड पकड़ लिया। बॉस ने एक आह भरी और मुझे मेरी ब्रा से अलग किया।

दोनों मम्मों को दबाने लगे और फिर मुझे गोद में उठाकर मेरी चड्डी अलग कर दी। इस वक़्त मैं बॉस की बाहों में पूरी की पूरी नंगी थी। बॉस मुझे इसी अवस्था में बोर्ड रूम ले गए और मुझे मेज़ पर लिटा दिया। मेरे दोनों हाथ ऊपर और दोनों टाँगे अलग अलग करके वे मेरी झांटों से खेलने लगे।

मेरे होंठों पर उनके होंठ, उनका एक हाथ मेरी एक बांहों को सहला रहा था और दूसरे हाथ से वे मेरी चूत से खेल रहे थे। ऐसा सुख मुझे तरुन ने कभी नहीं दिया था। बॉस मुझे चूमते हुए मेरी नाभि तक पहुंचे और फिर मेरी चूत पर। चूत को चौड़ा कर उन्होने अपनी जीभ मेरे रति-छिद्र में डाल दी जिससे में दो फ़ुट ऊपर उछल गई।

इतने में मेरा मोबाईल बजा, अब मैं कैसे उठाती। बजते बजते बंद हो गया। फिर बजा। और उसके बाद फिर। मैं समझ गई तरुन ही होंगे। इतने में ऑफिस का फ़ोन बजा और चूंकि एक फ़ोन उस मेज़ पर ही था, मैंने अनायास उठा लिया। दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है l
तरुन ही थे, पूछ रहे थे- क्या कर रही हो डार्लिंग?

अब मैं क्या कहती – अपनी चूत चुसवा रही हूँ?

मैंने कहा- काम कर रही हूँ।

इतने में राज के चूसने से मैं झड़ने वाली थी। मेरे मुँह से एक लम्बी आह निकली।

तरुन ने पूछा क्या हुआ?

सोचा- बोल दूं कि झड़ने वाली हूँ, लेकिन कहा- एक जगह बैठे बैठे पांव सुन्न हो गया। हिल नहीं पा रही हूँ।

इतने में राज ने मेरी चूत से पानी निकाल दिया। मैंने फ़ोन रख दिया और जोर से हूँ-हाँ करने लगी। बॉस ने अब ऊँगली करनी शुरू कर दी और मैं फिर से झड़ गई। बॉस मुझे खूब चूमा और कहा- उठो।
मैं मेज़ से उठ नहीं पा रही थी। बॉस समझ गए। मेरे बदन को निहारते रहे।

पांच मिनट के बाद में उठी और बॉस के सामने खड़ी हो गई। अब बॉस मेज़ पर लेट गए। मैंने उनकी चड्डी उतार दी। उनका लंड तो एक भयानक किस्म का जीव लग रहा था। आठ इंच लम्बा और डेढ़ इंच मोटा। उनका सुपारा एकदम गुलाबी रंग का था और मैंने उस सुपारे को अपने नाख़ून से थोड़ा पिंच किया। मेरे बॉस के मुँह से एक दर्दनाक आह निकली। मैंने अपने दोनों हाथों से उनका लंड लिया। मेरे दोनों हाथों में नहीं समा पा रहा था वो। खैर मैंने एक हाथ से उसको हिलाना शुरू किया।

फिर बॉस ने अपनी टांगें चौड़ी की और कहा- टेबल पर आ जाओ !

मैं मेज़ पर चढ़ गई और उनका लंड चूसने लगी। मैंने खूब चूसा और खूब हिलाया। उनके टट्टे अपने मुँह में लेकर उनके लंड को ऊपर नीचे करने लगी। बॉस शायद झड़ने वाले थे। एक लम्बी आह भरी और बोले- बेला मेरा मट्ठा निकल रहा है ! चूस रानी चूस।

मैने भी उनके लंड को चूसकर सारा का सारा मट्ठा निकाला और पी गई। बॉस का लंड एक ओर लुढ़क गया। मैने उसे चूमा और बॉस के पास आकर लेट गई।

दस मिनट के बाद बॉस ने पूछा- तैयार हो?

मैं तो कब से तैयार थी, मैं बोली- हाँ ! और इनका लंड फिर से तैयार करने लगी।

बॉस मेरी चूत में ऊँगली करने लगे। मैं तो गीली हो गई थी। बॉस ने मुझे गोद में उठाया और सोफे की ओर ले गए। मुझे औंधा लिटा कर उन्होंने मेरे चूतड़ उठाये और फिर मेरी फुद्दी में अपनी एक ऊँगली डाल दी। मैं तैयार थी। इतने में बॉस ने अपना सुपारा मेरी चूत में डाला और एक जोर का झटका दिया। मैं चीख पड़ी। बॉस को कोई फर्क नहीं पड़ा।

वे मेरी कमरिया को पकड़कर कभी मुझे अपनी ओर खींचते या फिर मुझे स्थिर रखकर अपने आप को धक्का देते। दोनों ही सूरत में मेरी फाड़ रहे थे। मैं तो बस चीखती रही। ये तो सहवाग की तरह बल्लेबाजी कर रहे थे। पता नहीं इनको क्या जल्दी थी। ऐसा उन्होने मेरे साथ तकरीबन पंद्रह मिनट तक किया और नीचे से मेरे मम्मों को भी दबा रहे थे।

मैं चिल्ला रही थी- बस करो बस करो, आह, ऊह, मर गई, मम्मीईई, मम्मीईईई ! दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है l

मगर बॉस को कोई रहम नहीं आया। बॉस मुझे चोदते रहे और मैं चुदती रही। मेरी चूत का तो उन्होंने भोसड़ा बन दिया था। मन ही मन चाह रही थी कि तरुन देखें और सीखें कि किस तरह से एक चूत को चोदा जाता है। थोड़ी देर में बॉस झड़ने वाले थे। उन्होंने अपना लंड निकाला और मेरी गोरी पीठ पर रख दिया।

एक गर्म एहसास हुआ पीठ पर और बॉस ने अपना सारा माल मेरी पीठ पर उड़ेल दिया और फिर मेरे बगल में बैठ गए। मैं बॉस की गोद में लुढ़क गई। मैं बहुत थक गई थी। मैंने शादी से पहले ऐसी चुदने की कल्पना भर की थी। तरुन ने यह सुख कभी ना दिया और ना ही कभी देगा। और बॉस ने तो मेरी ले ली।

उस रोज़ बॉस ने मुझे दो बार मेरी चूत को और चोदा और एक बार गांड भी मारी। शाम होते होते मैं बहुत पिद चुकी थी। इतनी चुदाई के बाद तो मैं खड़ी भी नहीं हो पा रही थी। बॉस ने मुझे उस रात घर तक छोड़ा। उसके बाद तो मैं बॉस से खूब खुलकर चुदने लगी। मैं हफ्ते में तीन चार बार तो बॉस से चुदती ही हूँ। अच्छा एक बात तो बताना ही भूल गई। मेरा प्रोमोशन हो गया है।

वैसे तरुन भी कभी कभी अपनी लुल्ली मेरे अन्दर डाल देता है। अब बर्फी खाकर गुड़ में मजा कहाँ रहता है?



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


indan ma bata xxx kahaneHDXXXKAHANEw w w सबिता भाभी को चुदा देब ने हिंदी hot sex stories. land chut chudayiki sex kahaniya dot com/hindi-font/archivexxxx sadu maa hindi maxxx soye hooye ninde mai bhai bahen hd sex hindisax kotiyaसगि मा चुदाई विडियो हिन्दी मेmousi ko bike pe patakr ghar me choda Hindi kahanigav ke saxxx bhabhe ke kahaneseal todi sex kahani bdawapbagal bali xxx storyचूत चुदाई की कहानी देसीdesi insect story pesab pi pi kar chud chatiDhobi ka bada lund Dekh Kar chudai Hindi sexy kahaniरिस्तौ मेंचुदाई की कहानियाँशेकसी चोदा चोदीभोजी कोचुदाईhttp://bktrade.ru/tag/nangi-maa-ki-kahani/page/2/antarvassna sexxxx hindi kahanitrial room me chudai porn stories in hindi badwap.comऔरत की चोदाई हिदी मेpathano ne milke gand fadi chudai kahanididi chut mari hindi me kahani foto shitdehatisexxyhindiantarvasnaXXX ANTRAWASANA SATORY ONLY ONE ZARROR AYANagie bhabi desi fotofas gai ladki pornइंडियन भाई बहन की सेक्स स्टोरी बहन क दवरा हिंदी मेंnonveg khani hindiबड़ी चडाई कहानियाँववव स्टोरीय महषि को चड़ा कॉमdara.panti.ma.sundar.larki.ka.photobahan ki Brest dekh ke chudi kikutty ne chuda porn kahani.com मैना कीचोदायी की कहानीbhen k samne nokrani ko chuda storyMassage parlar me bibi ko Chodbya storyहिदी सैकसी कहानिया पडने बालियाhindi seyx kahaniyakamukata dot com geng bengआंटी को मुता मुता के छोडाSEXY MAST CHIKO BARI JABRDAST CHUDAI HINDI KAHANImeri seal todne me mom ne help ki hindi sex vidiofree xxx adult porn stofy in hindi in antervasanaBiwe ki chudai chupke dakhe hindi kahnyadidi ki bur in hindi lambi kahaniJBAR DASTI XXX DASI KHANEचोदाइ कहानीNew maa aur beta muha me peshav karke xxx kahani hindi memma bete ki chút chodai kahanihindi didi bhai sex rat kahaniantarbasana storyxxx syx hahi davar sxy vidofreas banane walo se chudawai story & videobahan ki hot sex kahanh hindi memastram ki kahaniyaगर्म हिंदी kapre खोल ke dikhane बाली xxxबहन ने अपने भाई से करवाया सेक्स वीडियो डाउन लो डantavasna.inwww.garryporn.tube/page/%E0%A4%A8%E0%A5%87%E0%A4%B9%E0%A4%BE-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%B9%E0%A4%A4%E0%A4%BE-realxxx-sexy-hd-photo-573176.htmlभाभी बाजार में चुदाई स्टोरीbabuji ki aag chudai se bujhai hindi kahaniaफब वीडियो दादी दादा हिंदी सेक्समम्मी ने अंकल से चूदवायाbhabhi se shadi krke suhagrat mnayi xnx.com1 2 1sex mobil nmbar.sex karna hai xxxकॉलेज की लड़की की चूत पर तेल लगाकर पी लोcoindam se chud ko fadh do xxxboney ki chudai kahani photoकहानिया देख लिया पूरा माल Xxx bfगांड़ भीग गई थी सेक्स स्टोरीhatha dalkar karte hi ponr sex.comHindi Kahaani salei ne mujhe nagi karke chudwaya मेरी नई बीबी सजु की बुर की चोदई की कहनीआन्तर्वासना हिन्दी कहानी और तस्वीरjiji ma or nadan bhai se chudai karai ki kahanikamuta doct come xxx khani handiमाँ एंड बोस के सक्से कहनी हिंदीhindi me batcheet karte huye chaudi videoporn adat x thi vidioHot bhabhi chut moti lambi hot picristo me chudai kahani hindi meदोस्त की शराबी सेकसी मम्मी की हिन्दी कहानियोंचु त बहनचुतभाई बहन की चुदाई की कहानियोंमेरा बुर चोदो की कहानी kamukta bhabhi ko nadi me nadidadisexykahaniHindi.story,xasववव मम्मी चूड़ी होटल माँ दोस्तों से सेक्स स्टोर हिंदीxxx didi chudai storiyadoctor doctor khel khel me bahan sexkahani