वासना मय हों



loading...

मेरी दूर की मौसी की दो बेटियां है। बड़ी का नाम सरिता और छोटी का नाम कविता है। छोटी तो भी काफी छोटी है, मगर बड़ी बेटी सरिता, क्या लगती है। वैसे तो उसकी कद-काठी साधारण है, मगर एक चीज जो उसे खास बनाती थी, वह उसका सफेद गोरा रंग और उसके एकदम तने चूंचक। उसकी कुर्ती के ऊपर किसी पहाड़ की तरह हमेशा तने नजर आते थे उसके चूंचक। अकसर मेरे घर आ जाया करती थी। कभी-कभी मुझसे थोड़ा हंसी मजाक भी कर लेती थी।

उसकी एक अदा या यूं कहें कि लापरवाही थी कि वह कभी दुपट्टा नहीं पहनती थी। उसकी कुर्ती में से यूं तो उसके चूंचकों की एक झलक तक नहीं मिलती थी। क्या करें उसकी मां इतने तंग गले का सिलवाती थी, मगर एकदम तीर की तने उसके चूंचक हमेशा निमंत्रण से देते प्रतीत होते थे। यही वजह थी मैं उसके प्रति आकर्षित हो गया। मैं उस समय कॉलेज में पढ़ता था और वह भी दो बार इंटर फेल होकर फिर से इंटर की तैयारी कर रही थी, प्राइवेट। उसे पढऩे-लिखने से कोई मतलब नहीं था। बस दिनभर घर का काम या फिर मस्ती। कभी कुछ मांगने तो कभी कुछ देने मेरी मां को मौसी-मौसी करते हुए दिनभर में कई चक्कर लगा देती थी। मगर मैं इतना शर्मीला था कि कभी हिम्मत नहीं हुई कि उसके साथ कुछ गलत हरकत कर सकूं। खैर मुझे मौका तब मिला, जब मेरी दीदी से उसकी थोड़ी ज्यादा पटने लगी और मौसी ने मेरी दीदी से कहा कि इसे थोड़ा पढ़ा दिया करें ताकि यह इस बार तो पास हो जाए। उसे दिन में तो समय मिलता नहीं था, सो रात में किताबें लेकर चली आती और मेरी दीदी का सिर खाती। पढऩे में उसका मन लगता नहीं, दोनों पता नहीं क्या-क्या बातें किया करते या फिर टीवी पर सीरियल देखते। खैर मुझे मौका तब मिला जब वह पहली बार मेरे घर पर ही सो गई। मै बस इतना चाहता था कि एक बार उसके चूंचक को बिना कपड़ों के छूकर देखूं कि क्या वाकई ये इतने ही तने हैं। बस तो फिर मैने थोड़ी हिम्मत की और रात में सबके सोने के बाद उस कमरे में गया, जहां वह और मेरी दीदी एक ही पलंग पर सोती थीं। मैने देखा कि वह पलंग के एक किनारे पर गहरी नींद में सो रही थी। मैने चादर उठाकर धीरे-धीरे अपना हाथ अंदर सरका दिया। मेरा हाथ सीधा उसके चूंचकों से जा टकराया। मेरे लंड में करंट का एक झटका सा लगा। मैने धीरे से उसकी एक चूंची को थामा ही था कि वह कसमसाने लगी। डर के मारे मेरी जान सूख गई और मैं तेजी से अपने बिस्तर पर जाकर लेट गया। कुछ देर बाद मैने देखा कि वह भी उठी और बाथरूम जाकर वापस आकर अपने कमरे में चली गई। इसके बाद मेरी हिम्मत नहीं हुई कि मैं उसके पास जाऊं।
इसके बाद तो यह तकरीबन अकसर होने लगा। वह पढऩे आती और पढऩे से ज्यादा दीदी के साथ बातें करती, टीवी देखती और फिर वहीं सो जाती। मैं कभी-कभी उसके बिस्तर के पास जाकर उसके चूंचक छूने की कोशिश करता, मगर पता नहीं क्यों वह गहरी नींद नहीं सोती थी या सो नहीं पाती थी। हर बार जैसे ही मैं उसके शरीर को हाथ लगाता, वह कसमसाने लगती और मुझे भागना पड़ता। इस तरह कई कई महीनें निकल गए, मगर मेरी मुराद पूरी नहीं हो पा रही थी। मै सोचता था कि क्यों चूंचक छूते ही वह कसमसाने लगती। मेरे दिमाग में अचानक एक आईडिया आया कि हो सकता है कि चूंचक इसके शरीर का सबसे सेंसेटिव हिस्सा हो। उसे छूने पर उसे भी करंट जैसा लगता होगा या गुदगुदी होती होगी। तो मैं क्या करूं, मैं इसी उधेड़बुन में लगा रहता था। आखिर मैने सोचा कि क्यों न इसकी चूत छूकर देखी जाए। इसकी चूत भी तो इसकी चूंचक की तरह ही नर्म होगी। और मैने तय कर लिया इस बार जब भी वो मेरे घर सोएगी मैं उसकी चूंचियों को हाथ तक नहीं लगाऊंगा। दो दिन बाद ही यह मौका आ गया।
वह फिर से पढऩे आई और टीवी देखने के बाद दीदी के कमरे में जाकर सो गई। अब तो उसकी मां को भी इस सबकी आदत हो गई थी तो जब भी वह नहीं जाती वे पूछने तक नहीं भेजती थीं। इस बार मैने आधी रात तक का इंतजार किया। मैं आज किसी भी कीमत पर उसके कपड़ों के अंदर हाथ डालना चाहता था। काफी देर बाद जब मुझे भी नींद आने लगी तो मैं उसके बिस्तर के पास गया। इस बार मैं उसके पैरों की तरफ बैठा था। चित लेटी थी। मैने धीरे से हाथ चादर के अंदर सरकाया। उसकी कुर्ती सरककर ऊपर आ गई थी। मेरा हाथ उसके चिकने पेट से टच हुआ, मगर मैने तुरंत हटा लिया। फिर मैने हाथ नीचे किया और सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत पर धीरे से टच किया। उसकी चूत काफी नर्म और गुदाज थी। मैं थोड़ी-थोड़ी देर बाद उसकी चूत को ऐसे ही ऊपर से टच करता रहा। आज वह घोड़े बेचकर सो रही थी शायद। मेरी हिम्मत अब खुलने लगी। मैने अपना हाथ उसकी चूत पर रख दिया और कुछ देर वैसे ही रखा रहने दिया। सलवार के ऊपर से उसकी चूत के गुदगुदेपन का अहसास हो रहा था। फिर मैने हाथ ऊपर सरकाया और नंगे पेट पर हाथ रख दिया। कुछ देर उसकी रिएक्शन का इंतजार करने के बाद दूसरा हाथ भी चादर के अंदर ले गया और उसकी सलवार का नाड़ा पकड़कर थोड़ा उठा दिया ताकि मेरा हाथ अंदर जा सके। मैने हाथ धीरे-धीरे अंदर सरकाया और चड्ढ़ी की इलास्टिक ऊपर कर चूत पर धर दिया। मेरा हाथ अब उसकी नंगी चूत पर था। मेरा लंड झटके से सलामी मार रहा था। उसकी चूत पर मुलायम और रेशमी बाल थे। इतने नरम कि मानो रेशम हो। मै धीरे-धीरे उसकी चूत को सहलाने लगा, फिर एक उंगली उसकी चूत के दरार के बीच ले गया। जैसे ही उंगली से उसकी चूत की दरार में सहलाया, वह तेजी से कसमसाई। मैने उससे भी ‘यादा तेजी से अपना हाथ निकाला और अपने कमरे में भाग गया। मगर मुझे डर लग रहा था कि कहीं सरिता जाग न गई हो। अगर जाग गई होगी तो सुबह मेरी खैर नहीं। मैं मन ही मन भगवान से प्रार्थना करता हुआ सो गया।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


auntykiantarvasanadada ne bra penty kharid ka sesxi khaniमोशी ने मेरे लंड पे तेल लगाया अंतर्वासनाxxx ben baiya jabadasti sealbf ne jee bhar ke chodh kahnibhabhi ko sleeve lagakar chodadehatisexstroy.comहिंदी चुदाई की स्टोरी स्कूल टीचर की सेक्सीxnxxsorfpados ke bhbe xxx satorexxx video bhigi bhigi barsat me chodae chalu planmesex hd videogujarati stori sexxxx pati pataniSARDI KI RAAT ME CHUDAI KAHANI KUVARI KIKuwari babe jabardasti ganbang chudai khanidede baiya ki sexe cudai hindi sexe kahaniyaSEX RANI KAHANI SAGI BHABHIantarvasna aunty bus sexसामूहिक बुर की चोदाई का विडियोbhabhi ne sex karna sikhaya start se end tak porn katha in hindi sexy film dikhakar choda.sexy kahani xxx.hot sex stories. land chut chudayi sex kahani dot com/hindi-font/archiveपिता जी ने मेरी चुत कि शिल तोड चोधाlumbe balon wali chachi ki seal todi kamuktabhai se chudai rat main new kahaniपेसाबकरते-चोदाईhindi sexi kahaniyanhindi.Bur.chudai.ki.hindi.kahaniya.dot.com.andhi padosan ki chudaisexy kahaniya khatarnaksexykhani maa bata bhain kinindei saxy kahniyaमौसी की जबरदस्त सामूहिक चुदाई वीडियो हिंदीsaksebfvideo burkanon veg hindi sex storyxnx engejhindi urdu sex kahani भाई ने दिया पति का सुख और माँ का भीबहन भाई सेकसी कहानीमसत राम की सबसे सैसी कहानीmaa ka doodh sex stories by new chudai.comअजनबी से अनजाने में चुदीbf kahani sacchi parivar choda.xxx new maa cudahi kahaniदेसी गर्ल पलास्टिक लंड से चुदाइ बिडीओबेबी को लैंड से खिलाया और चौड़ाristo me chudai kahani hindi meचूति की चुदाईchudayiki sex kahaniya. indian sex stories com. antarvasna com/tag/page no 77--120--222--372--384xxx khani gf aut bhi bhan kajanBHAI BHAN AUR FAMILY KI GRUP SEXY KHANIYAsexy hot auntu ko manaya phir choda hindi sexy storysex kahani in hindiantervasna khaniyapariwar me chudai ke bhukhe or nange logsex coti banji ki cubai khaniyaचाची और भतीजा की चुदाई देवर भाबीsex fak HD vedos HRYANA KI JAATNI HI PEHLI GAHR MRD SE CHUDAI KI STORY HINDI MErandi jodhpur photo antarvasanachut lund ki hindi kahanibhabhi burr chudai khanihindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/tag/bktrade.rubhabhi ne sex chat sikhaihot saxi kesa khaneyachudaikikahaniantrvasnaसेकस राणी डाँट काँमxvideo roti sabje banate chudaikachchi kali ki porn vedio hindi meभाभि व चाची कि चुत चोदने कि कहानिchut me land in hindhi me kahneदिपाली आटी सेक्सी व्हिडिओअन्तर्वासन tusan टीचर ko cudaxxx आंखे फट गई चीख निकाल दीMaabeta ki chudai pariwaric incent sexchudaai ki kahani in hindipariwar me chudai ke bhukhe or nange logindia rajkot real mom and son kahanixnxx सुहागरात फूलों परxxx video जंगल स्टेरी काॅलेज .comteacher ki badan malish vidromaa bete ki anokhi kahani xxx sotory.com