मेरी ग़लती से मेरी मम्मी चुद गई



loading...

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम विक्की है और आप सभी का कामुकता डॉट कॉम पर स्वागत है में इस साईट का बहुत बड़ा फैन हूँ और मुझे इस वेबसाइट पर कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है। दोस्तों आज में आप लोगो को ऐसी स्टोरी बताने जा रहा हूँ जिसे पढ़कर आप लोग को ये पता चलेगा कि कैसे एक बेटे की गलतियों से उसकी मम्मी चुद गयी। दोस्तों मेरे घर में में, मेरे पापा, मेरी मम्मी और मेरी एक दीदी है। मेरी दीदी का नाम प्रिया है और वो बेंगलोर के एक इंजिनियरिंग कॉलेज में पढ़ती है लेकिन पहले में आपको अपनी मम्मी के बारे में बता देता हूँ। मेरी मम्मी का नाम वर्षा है और वो

दिखने में बहुत ही सुंदर है.. उनका फिगर बहुत ही हॉट और सेक्सी है.. उनकी गांड बिल्कुल गोल और बड़ी है। मम्मी घर में मेक्सी पहनती है और बाहर जाती है तो सलवार सूट या साड़ी पहनती है मेरी मम्मी सलवार सूट बहुत ही टाईट पहनती है फिर जब भी मम्मी बाहर जाती है तो सारे पड़ोस के अंकल उन्हें घूर घूर कर देखते रहते है और उनकी सलवार से उनकी पेंटी का आकार दिखता रहता है और कई बार मेरे मोहल्ले के सारे लड़के मेरी मम्मी के बारे में गंदी गंदी बातें भी करते रहते है।

मुझे अच्छी तरह से याद है एक बार में एक दुकान पर समान खरीदने गया हुआ था। वहाँ पर पास में कुछ लड़के थे जो सिगरेट पी रहे थे.. उन्ही में से एक का नाम असलम था.. उसने मेरी तरफ अपने दोस्तों को दिखा कर कहा कि पता है इसकी मम्मी बहुत गरम है.. इतनी टाईट सलवार पहनती है कि मन करता है उसकी सलवार यहीं पर फाड़ दूँ और उसकी गांड मारूं। में उस समय छोटा था तो मुझे इतनी बातें समझ में नहीं आती थी और मुझे उनसे बहुत डर भी लगता था कि कहीं वो लोग मुझे पीट ना दें। फिर एक दिन मैंने मम्मी को ये बात बताई तो मम्मी ने मुझसे कहा कि तुम उनकी बातें मत सुना करो.. वो लोग गंदे है मैंने कहा कि ठीक है। फिर मैंने कहा कि मम्मी वो लड़के हमेशा मुझे देखकर मुझसे कहते थे कि क्या घर पर तेरी मम्मी अकेली है और अगर में कहता हाँ अकेली है तो वो लोग मुझसे कहते थे कि ठीक है आज तेरी मम्मी को चोदने में जाता हूँ। फिर मुझे बहुत बुरा लगता था।

तभी एक दिन उन्होंने मुझसे कहा कि अगर तू मुझे अपनी मम्मी की चूत दिलवाएगा तो हम तुझे एक क्रिकेट बॉल खरीद कर देंगे। फिर मैंने कुछ नहीं कहा और में रोता हुआ घर पर चला आया तो मम्मी ने मुझसे पूछा कि क्या हुआ? मैंने कहा कि कुछ नहीं और में अपने कमरे में चला गया.. लेकिन मुझे उस समय तक इतना भी नहीं पता था कि चूत का मतलब क्या होता है? मुझे बस इतना समझ में आता था कि वो लोग मेरी मम्मी के बारे में बहुत गंदी गंदी बातें करते है और इस बात को करीब 6 महीने हो गये और ऐसा ही चलता रहा और वो लोग हमेशा मेरी मम्मी के बारे में गंदी गंदी बातें करते थे और में चुपचाप सुनता रहता था। फिर एक दिन की बात है हमारे सामने के फ्लेट में एक 30 साल का आदमी रहने आया.. उसका नाम राणा था वो बांग्लादेश से इंडिया बिजनेस के सिलसिले में आया था। मेरी उससे उस समय कोई जान पहचान नहीं थी। एक दिन एक लड़का मुझे मेरी मम्मी के बारे में छेड़ रहा था और मैंने उसे पलट कर गाली दे दी तो वो मुझे मारने लगा और कहने लगा कि साले तेरी मम्मी है ही रंडी इसलिए में तेरी मम्मी के बारे में गंदी बातें बोलता हूँ और मुझे मारने लगा।

फिर अचानक से वो आदमी जिसका नाम राणा था.. वो आया उसने उस लड़के को पहले रोका और बोला कि ये बच्चा है इसे क्यों मार रहे हो.. लेकिन जब उसने मुझे फिर से मारा तो राणा ने उस लड़के को मारा और वहाँ से भगा दिया और मुझे लेकर वो घर आ गया। वो पहले मुझे अपने घर ले गया और उसने मुझे बोला कि पहले अपना चहरा साफ कर लो फिर घर चले जाना और फिर मैंने ऐसा ही किया और में घर पर चला गया। वो मुझे बहुत अच्छा लगने लगा। मैंने अभी तक मम्मी को ये बात नहीं बताई थी। फिर में अगले दिन उसके पास गया और मैंने उसे थेंक्स बोला और फिर धीरे धीरे हमारी बहुत अच्छी दोस्ती हो गयी। फिर हम रोज़ मिलते थे और बातें करते थे एक दिन में और वो छत पर खड़े होकर बातें कर रहे थे कि नीचे मुझे मेरी मम्मी नज़र आई.. मैंने उसे दिखाया और कहा कि ये मेरी मम्मी है। मैंने देखा कि वो घूर घूर कर मेरी मम्मी के तरफ देख रहा था।

फिर में लगातार उसके घर आने जाने लगा तो वो मुझसे मेरी मम्मी के बारे में पूछता था.. जैसे क्या कर रही है? क्या पहना है? यही सब। एक दिन में उससे बातें कर रहा था तो उसने मुझसे पूछा कि अच्छा वो लड़के तुझे क्या बोलते थे? तभी मैंने सारी बातें उसे बताई.. फिर मैंने उससे पूछा कि चूत का मतलब क्या होता है? तभी वो हंसने लगा और बोला कि क्या तुझे नहीं पता? मैंने कहा कि नहीं पता है इसलिए ही तो पूछ रहा हूँ। तभी उसने कहा कि जिससे तू निकला है। फिर मैंने कहा कि क्या मतलब? तभी उसने कहा कि जहाँ से तेरी मम्मी सू सू करती है वही चूत है।

फिर एक दिन उसने मुझसे कहा कि विक्की क्या तू मुझे अपने घर नहीं बुलाएगा? मैंने कहा कि क्यों नहीं ज़रूर बुलाऊंगा.. अभी चलो.. मम्मी, पापा भी घर पर है और तुम मिल लेना मेरे मम्मी-पापा से। उसने कहा कि नहीं जब तेरी मम्मी घर पर नहीं हो तब बुलाना। मैंने कहा कि ठीक है। में उस समय समझ नहीं पा रहा था कि उसके मन में क्या चल रहा है अगले दिन मेरी मम्मी मंदिर गयी थी और मैंने उसे कॉल किया और बोला कि आ जावो। फिर वो मेरे घर पर आया हम बैठ कर बातें करने लगे उसने मुझसे पूछा कि विक्की में तुम्हे कैसा लगता हूँ? मैंने कहा कि आप बहुत अच्छे है। फिर उसने मुझसे कहा कि विक्की क्या तुम चाहते हो कि आज से वो लड़के तुम्हे नहीं चिड़ायें? मैंने कहा कि हाँ.. क्या ये हो सकता है? तभी उसने कहा कि हाँ.. क्यों नहीं हो सकता है? लेकिन तू मेरी कुछ बातें मान ले तभी ऐसा हो सकता है। फिर मैंने कहा कि हाँ बोलिए में आपकी हर बात मानूँगा। उसने कहा कि विक्की तू मुझे दिखा ना तेरी मम्मी कैसी पेंटी पहनती है। मुझे कुछ समझ में नहीं आया मैंने कहा क्यों आप ऐसा क्यों पूछ रहे हो? उन्होंने मुझसे कहा कि तू नहीं समझेगा तू अभी बच्चा है.. तू जाकर ले आ और हाँ अपनी मम्मी से कुछ मत कहना.. नहीं तो में तेरी मदद नहीं कर पाउँगा। मैंने कहा कि ठीक है और में गया और मम्मी जितनी पेंटी और ब्रा पहनती थी वो सब ले आया। उसमे से एक पेंटी ब्रा भीगी हुई थी जो आज ही मम्मी ने धोया था। मैंने देखा कि उसने वो पेंटी उठाई और उसे सूंघने लगा। मैंने उससे पूछा कि आप ये क्या कर रहे हो? तभी उसने कहा कि कुछ नहीं.. तुम गेम खेलो मैंने कहा कि ठीक है और में गेम खेलने लगा ऐसा कुछ दिन तक चलता रहा। में भी चुपचाप सब देखता था और वो मेरी मम्मी की पेंटी लगभग रोज़ सूंघता था।

फिर एक दिन जब मम्मी घर पर नहीं थी वो मेरे घर आया और हर दिन की तरह मेरी मम्मी की पेंटी को सूंघ रहा था। तभी थोड़ी देर बाद उसने मुझसे पूछा कि विक्की क्या मुझे अपनी मम्मी से नहीं मिलवाओगे? तभी मैंने कहा कि क्यों नहीं.. अपने ही मुझसे कहा था कि आप घर पर तब आओगे जब मम्मी नहीं रहेगी। फिर उसने कहा कि ठीक है अब में कहता हूँ कि तुम अपनी मम्मी से मेरा परिचय करवा दो। मैंने कहा कि ठीक है। फिर उस दिन जब मम्मी घर आई तो मैंने मम्मी से राणा का परिचय करवाया फिर हम लोग बैठ कर बातें करने लगे। थोड़ी देर बाद मम्मी ने कहा कि में चाय बनाती हूँ और मम्मी उठकर जाने लगी और वो मेरी मम्मी को घूरकर देख रहा था। मम्मी ने सफेद सलवार सूट पहन रखा था और मम्मी की काली कलर की ब्रा दिख रही थी और साईड से उनकी सलवार के अंदर से काली पेंटी भी दिख रही थी।

फिर मम्मी ने चाय लाकर हमारे सामने रखी। हम लोगों ने चाय पी और मैंने मम्मी से कहा कि में गेम खेलने जा रहा हूँ और में दूसरे रूम में जाकर गेम खेलने लगा और मम्मी और राणा बैठकर बातें करने लगे। कुछ देर बाद मुझे मम्मी की ज़ोर से हंसने की आवाज़ आई और इस तरह मम्मी की उससे दोस्ती हो गयी। दो महीने इसी तरह चलता रहा और फिर एक दिन पापा ऑफीस से आए उन्होंने मम्मी से कहा कि में 15 दिन के लिए बेंगलोर जा रहा हूँ मेरी एक जरूरी मीटिंग है और वो वहाँ पर दीदी से भी मिल लेंगे। मम्मी ने कहा कि ठीक है उन्होंने मम्मी से और मुझसे कहा कि तुम लोग भी चलो। मम्मी तो तैयार हो गयी लेकिन मैंने मम्मी से कहा कि मेरा स्कूल है.. में नहीं जा सकता हूँ और मैंने मम्मी से कहा कि में अंकल के यहाँ पर रह लूँगा.. आप लोग जाओ। लेकिन मम्मी को मुझे अकेले छोड़ने में डर लग रहा था और उन्होंने कहा कि आप जाईये.. में विक्की के साथ रहूंगी। शायद वो मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी ग़लती हो गयी थी। फिर पापा अगले दिन बेंगलोर चले गये और अंकल का धीरे धीरे मेरे घर आना जाना बढ़ गया और वो मुझसे अब कम बातें करने लगे और मेरी मम्मी से ज्यादा। मेरे स्कूल जाने के बाद भी वो मेरी मम्मी से मिलने मेरे घर आने लगे और मुझे अपनी मम्मी में भी बहुत से बदलाव दिखने लगे.. पहले वो किसी और आदमी से बातें नहीं करती थी लेकिन अब वो उनके साथ घुल मिलकर बातें करने लगी.. लेकिन में इन सब बातों को अपने दिमाग से निकालता रहा.. क्योंकि मुझे ये नहीं पता था कि उसके मन में क्या है। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर एक दिन में नीचे से कुछ सामान खरीद रहा था कि वही लड़के जो मुझे परेशान किया करते थे.. उन्होंने मुझसे कहा कि यार हममे क्या कमी थी जो तेरी मम्मी राणा का बिस्तर गरम करने लगी है। फिर उन्होंने कहा कि चल तू एक काम कर.. अपनी मम्मी से कह कि जैसे उसका बिस्तर गरम करती है हमारा भी कर दे और बोलना हम उसे पैसे भी देंगे और मुझे बहुत गुस्सा आया। मैंने कहा कि तुम लोग झूठ बोल रहे हो.. मेरी मम्मी ऐसी नहीं है उन्होंने कहा कि अच्छा ठीक है तू जाकर पूछ ले राणा से। तभी में वहाँ से चला आया और फिर एक दिन में उससे बातें कर रहा था तो मैंने उनसे कहा कि वो लड़के ऐसा बोल रहे थे। वो मेरी तरफ देखने लगा और उसने कहा कि ये बिल्कुल सच है मैंने उससे कहा कि आप झूठ बोल रहे हो। तभी उसने कहा कि नहीं में बिल्कुल सच कह रहा हूँ मैंने कहा कि ठीक है में जब तक विश्वास नहीं करूँगा.. जब तक में खुद ना देख लूँ।

तभी उसने कहा कि ठीक है आज में फिर तेरी मम्मी को चोदूंगा और तू देख लेना। मैंने कहा कि ठीक है। फिर उसने मेरे सामने ही मेरी मम्मी को कॉल किया और पूछा कि भाभी कहाँ पर हो? मम्मी ने कहा कि में घर पर हूँ.. फिर उसने कहा कि आओ ना मेरे घर पर.. मेरा बहुत मन कर रहा है। मम्मी ने कहा कि विक्की नहीं है वो बाहर गया हुआ है कभी भी आ सकता है। उसने कहा कि वो अभी कहाँ आएगा.. वो बाहर गया होगा खेलने.. उसे थोड़ा टाईम लगेगा आ जाओ जल्दी से। मम्मी ने कहा कि ठीक है में आती हूँ। मुझे विश्वास नहीं हुआ उनकी बातें सुनकर कि मेरी मम्मी किसी और के साथ भी सेक्स कर सकती है। उसने मुझे मम्मी की नंगी फोटो भी दिखाई और पूछा कि अब तो तुझे विश्वास हुआ ना कि तेरी मम्मी मेरे सामने अपनी टाँगे फैला चुकी है।

तभी डोर बेल बजी.. उसने मुझे कहा कि तू दूसरे रूम में छुप जा। मैंने कहा कि ठीक है और में दूसरे रूम में चला गया.. मुझे बार बार यही मन में आ रहा था कि मेरी वजह से मेरी मम्मी चुद रही है। तभी मम्मी आई और मैंने देखा कि मम्मी ने एक लाल रंग का सलवार सूट पहन रखा है। मम्मी और राणा सोफे पर बैठकर बातें कर रहे थे। राणा का हाथ मेरी मम्मी की जांघो पर था और उन्हें सहला रहा था.. उसने मेरी मम्मी से कहा कि भाभी सच में तुम बहुत हॉट हो जब भी तुम्हे देखता हूँ मेरा मन करता है कि चोद दूँ। तभी मम्मी शरमा रही थी और अपने बालों को बार बार ठीक कर रही थी।

तभी थोड़ी देर बात करने के बाद मम्मी ने उससे कहा कि मुझे सू सू आई है और मम्मी बाथरूम में चली गयी और वो वहीं पर बैठा हुआ था। फिर मम्मी आई उसने कहा कि चलो रूम में चलते है। मम्मी ने कहा कि ठीक है और दोनों उठकर जाने लगे और अंकल का एक हाथ मेरी मम्मी के चूतड़ पर था। वहाँ पर जाकर वो दोनों लेट गये और वो मेरी मम्मी को किस करने लगे और मुझे बड़ा अजीब लग रहा था कि कोई और आदमी मेरी मम्मी को किस कर रहा है। तभी उसने मम्मी से कहा कि भाभी तेरा जिस्म बहुत गरम है लगता नहीं की तुम्हारी उम्र 39 की है.. ऐसा लगता है की तुम 26 की हो। अब वो मेरी मम्मी को किस करने लगा और मेरी मम्मी के बूब्स को दबाने लगा। मम्मी ने अपने घुटनों को फोल्ड कर लिया था और उनकी टाँगे फैली हुई थी। तभी मैंने गौर से देखा कि मम्मी की सलवार उनकी चूत के पास से गीली है और वो मेरी मम्मी की चूत को उनकी सलवार के ऊपर से सहला रहा है और मम्मी आआआआअ कर रही है।

फिर राणा ने अपने कपड़े उतार लिए और मुझे उसका लंड दिख रहा था.. बिल्कुल काला और मोटा था और मुरझाया हुआ था। तभी मम्मी ने उसे अपने हाथ में ले लिया और सहलाने लगी मम्मी की चूड़ियों की आवाज़ मेरे कानो में आ रही थी। मुझे बहुत अजीब सा लग रहा था और फिर थोड़ी देर तक मम्मी ने उसका लंड ऊपर से नीचे तक सहलाया और कुछ देर बाद उसका लंड खड़ा हो गया। वो बहुत ही बड़ा था। वो मम्मी के बूब्स को धीरे धीरे मसल रहा था.. अब वो आराम से बैठ गया और मम्मी ने उसका लंड अपने मुहं में ले लिया और उसे चूसने लगी.. वो बार बार आआआआअ कर रहा था। फिर उसने मेरी मम्मी का कुर्ता निकाल दिया। तभी मैंने देखा कि मम्मी ने सफेद कलर की ब्रा पहन रखी थी जिसमे लाल फूलल प्रिंट थे। फिर उसने मेरी मम्मी को अपने सीने से चिपका लिया और चूमने लगा। मम्मी उसकी जांघो पर बैठी हुई थी और वो मेरी मम्मी को जकड़ कर मेरी मम्मी के बूब्स ब्रा के ऊपर से चूम रहा था और कभी उनके होंठो को किस करता। फिर उसने मेरी मम्मी की ब्रा निकाल दी और बेड पर रख दी। अब मम्मी ऊपर से नंगी थी और मम्मी के नंगे बूब्स उसकी छाती से चिपके हुए थे। तभी थोड़ी देर बाद उसने मेरी मम्मी को लेटा दिया और मेरी मम्मी की सलवार को निकाल दिया। मम्मी ने जो पेंटी पहन रखी थी वो बहुत छोटी सी थी। उसने मेरी मम्मी के टॅंगो को फैला दिया और मम्मी की चूत के पास अपना मुहं ले गया। मम्मी की पेंटी थोड़ी गीली थी। तभी उसने पेंटी को सूंघा और बोला कि भाभी बिल्कुल नमकीन खुश्बू आ रही है मम्मी सिर्फ़ मुस्कुरा रही थी.. उसने पेंटी को थोड़ा चाटा।

फिर उसने मम्मी की पेंटी को साईड में कर दिया और मम्मी की चूत को देखने लगा और चूत पर थोड़े थोड़े झांट के बाल थे। उसने अपनी दो उंगलीयों से मम्मी की चूत को फैला दिया। मुझे बिल्कुल लाल चूत दिखने लगी और मम्मी सिसकियां लेने लगी। फिर उसने अपनी जीभ चूत पर लगाई और चाटने लगा। मम्मी आआहह करने लगी और अपने सर को इधर उधर करने लगी। मम्मी ने अपने हाथ पीछे की तरफ कर रखे थे। जिससे मम्मी के बूब्स और तन गये थे। मुझे अपनी ग़लती पर शरम आ रही थी कि आज मेरी ग़लतियों के कारण मेरी मम्मी इसके सामने टाँगे फैलाए हुये है।

अब उसने मेरी मम्मी की पेंटी निकाल दी और फिर से मम्मी की नंगी चूत को चाटने लगा। अब वो मम्मी के ऊपर लेट गया और मम्मी के होंठो को चूमने लगा और अपने एक हाथ से अपना लंड मेरी मम्मी की चूत पर रख दिया और धक्का दिया और मेरी मम्मी की चूत में अपना लंड घुसा दिया और धीरे धीरे चोदने लगा। उसका पूरा लंड मेरी मम्मी की चूत के अंदर बाहर हो रहा था और मम्मी औहह इउईई ओफफफफ्फ़ कर रही थी और वो धीरे धीरे अपनी स्पीड बड़ा कर मेरी मम्मी को चोद रहा था। मम्मी दर्द से सिसकियाँ ले रही थी.. वो मम्मी को चोदते हुए कह रहा था कि भाभी तू बहुत गरम है सारे मोहल्ले के लड़के तुझे अपने बिस्तर पर ले जाना चाहते है। तभी मम्मी ने कहा कि मुझे पता है फिर उसने कहा कि भाभी लेकिन में नहीं चाहता कि तू किसी और का बिस्तर गरम करे.. सिर्फ़ मुझसे चिपक कर रहो तो मम्मी ने कहा कि हाँ।

तभी उसने एक ज़ोर का झटका दिया और ज़ोर से मेरी मम्मी को चोदने लगा। मम्मी भी चूतड़ उठा उठाकर उसका साथ देने लगी। दोनों पसीने से लथ पत हो गये थे.. फिर भी वो जोर जोर से चोदे जा रहा था। फिर उसने एक ज़ोर का झटका दिया और मेरी मम्मी के ऊपर लेट गया। उसने अपना वीर्य मेरी मम्मी की चूत में ही डाल दिया और थोड़ी देर तक वो ऐसे ही मम्मी के ऊपर लेटा रहा। फिर थोड़ी देर बाद उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और फिर 20 मिनट तक दोनों नंगे पड़े रहे और वो मेरी मम्मी के बूब्स को चूसता रहा। फिर मम्मी ने कहा कि अब में घर पर जा रही हूँ और वो खड़ी होकर जाने लगी और वो नंगा ही था। में जल्दी से दूसरे रूम में चला गया कि कहीं मम्मी ना देख ले।

कुछ देर तक में बहुत चकित रहा ये सब देखकर और में मम्मी के जाने का इंतज़ार कर रहा था.. लेकिन वो आई नहीं और में फिर से देखने गया तो देखा कि मम्मी खड़ी है और राणा बेड पर बैठा हुआ है और मम्मी की पीठ उसकी साईड में है और उसने मम्मी की कुरती उठा दी और वो मम्मी की गांड के आस पास सूंघ रहा था। फिर उसने अपना एक हाथ आगे की तरफ कर दिया और मम्मी को कसकर पकड़ लिया और मम्मी की गांड के छेद में नाक डाल दी और सूंघने लगा। तभी मम्मी बार बार अपना हाथ पीछे करके उसे हटाने लगी.. लेकिन वो लगातार सूंघता रहा। फिर उसने मम्मी की सलवार उनकी जांघ तक कर दी मम्मी की पेंटी उनकी गांड में घुसी हुई थी और वो फिर से नाक डाल कर सूंघने लगा और उसने जीभ से चाट चाट कर मम्मी की पेंटी गीली कर दी।

तभी उसने मम्मी की पेंटी को नीचे सरका दिया और मम्मी की गांड के छेद में अपनी जीभ डाल कर चाटने लगा। मम्मी आआआआ उईई माँ कर रही थी और अपनी गांड चटवा रही थी और मम्मी को बहुत मज़ा आ रहा था। मैंने आज तक मेरी मम्मी को इस हालत में नहीं देखा था। मेरी आँखों के सामने एक आदमी मेरी मम्मी की गांड चाट रहा था। फिर वो मेरी मम्मी के पीछे आ गया और मम्मी झुक गयी मम्मी की सलवार उनके पैरो तक गिर गयी थी और उसने मेरी मम्मी की पेंटी को जांघो तक सरका दिया और पीछे से अपना लंड मेरी मम्मी की गांड में डाल दिया और मम्मी की गांड मारने लगा। तभी मम्मी आआआहह सस्स्सस्स औहह धीरे धीरे कर रही थी। मम्मी की सिसकियाँ मेरे कानो में अच्छे से सुनाई दे रही थी और वो मेरी मम्मी के चूतड़ सहलाता हुआ मेरी मम्मी की गांड मार रहा था।

तभी थोड़ी देर बाद वो ज़ोर से मेरी मम्मी की गांड मारने लगा। मम्मी दर्द से चिल्ला रही थी और मुझसे मम्मी की ये हालत देखी नहीं जा रही थी.. लेकिन में क्या करता। तभी थोड़ी देर बाद उसने मम्मी के दोनों बूब्स को पकड़ कर जोर जोर से धक्के देने शुरू कर दिये और उसने अपनी स्पीड बड़ा दी। फिर कुछ और धक्के देने के बाद उसने अपना वीर्य मम्मी की गांड के छेद में गिरा दिया और फिर मम्मी ने अपनी सलवार ऊपर चड़ा ली। तभी में वापस दूसरे रूम में चला गया और फिर कुछ देर बाद मम्मी बाहर बाहर आ गयी और वो भी साथ में था। में चुपके से थोड़ा बाहर आ कर देखने लगा।

तभी वो मम्मी को किस कर रहा था और कह रहा था कि भाभी आपके पति बेंगलोर गये है क्या आप इतने दिन रात भर मेरे साथ नहीं रह सकती है? तभी मम्मी ने कहा कि में देखूंगी.. लेकिन अगर मुझे मौका मिला तो पक्का आऊंगी और फिर वो चली गयी।

फिर वो आया और मुझसे बातें करने लगा। उसने मुझसे पूछा कि देखा तूने.. मैंने कहा कि हाँ। फिर उसने मुझसे कहा कि देख तेरी मम्मी जवान है और उनको इन सब चीज़ो की ज़रूरत है और में तेरी मम्मी की मदद कर रहा हूँ.. उसने कहा कि तुम ये बातें किसी से मत कहना। फिर मैंने उससे कहा कि ठीक है और मैंने किसी को ये बात नहीं बताई।

इस बात को दो साल हो गये है वो आज भी मेरी मम्मी को चोदता है। अब उसकी हिम्मत और बड़ गई है.. वो तो आजकल मौके की तलाश में रहता है और जब भी मौका मिला चुदाई शुरू। उसने कई बार मेरे घर पर भी आकर मेरी मम्मी को चोदा है और मैंने कई बार देखा है ।।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


चुत चुदाय के सेक्सी काहानीsex ki anokhi kahaniya hindi mesix video story hindegym me maa ki chudai ho gayi videostoris xxx hindi me padna heiसेकसी 90 साल कीGhodi ki chut me lond xxxमेरी नई बीबी सजु की बुर की चोदई की कहनीindinas galy 18-नहाते हुऐ xxx-commughe land mila lamba chut chudai real sex khanianatar wasnaमेरी चिकनी चूत का रसsavita bhabhi ki hindi storyxxx didi chudai storiyaहिंदी सेक्स स्टोरीज लैंड की लगनkamuktamastram.chudhen.comsexnukar ki sexkhaniyaxxx sex joseli sistr ne bradr ka rep kiyabebe ke chudae store hindeस्विमिंग सिखाने के बहाने सैक्सी कहानीmarathi antarvasna storyxxx kahaniya mom beta ki dehatiJijane kar deye xdese vsex si bhabhi ke sat kiya rep devrne xxxvanimal to animal sex 3g hindi awaj me 3g vedo mexxx seel todne ka majaभाभी के सत जाबर सत चोदाईkagane hindeबियाप चुद चूदाई खून निकलताjabr jastee lee bhanji ki lee or bo man gaee hindi story60shal ki ourat ko bur me ungli karte dekha phir chodahot sex kahaniyAnty k sat xxx story handisasur na mera chutchodafreshmaza sexy chot land story hindiलंड सेचुत मारतेच।च।सेकसीहिनदीमेगाँव मे मेरी गैंग बैंग चुदाईhar ang chhua or fir desi chudai kahaniMota land hindi kahaniantarvasna photos desi closeupमालकीन मूजे चूदना है मालीक के साथwww.didi.ki.sexi.storey.sex.dot.com.Kamukta sotali bhan ki jabardastidasvi barvi ka ladka ladka ka gar mara xxxछिनालकुतियाwww.garryporn.tube/page/%E0%A4%B5%E0%A5%8D%E0%A4%B5%E0%A5%8D%E0%A4%B5-%E0%A4%95%E0%A5%89%E0%A4%AE-%E0%A4%A6%E0%A5%80%E0%A4%A6%E0%A5%80-%E0%A4%8F%E0%A4%82%E0%A4%A1-%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%88-%E0%A4%B8%E0%A5%87%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B8-%E0%A4%95%E0%A4%B9%E0%A4%BE%E0%A4%A8%E0%A5%80-%E0%A4%AB%E0%A5%8B%E0%A4%9F%E0%A5%8B-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A5-752777.htmlचाची को पटाना हैं चौदा चौदी के लिएChutko kyo chodate Indian kiss couple nudeshbji ke sat xxxx krti grilxxx कहानी छोटे भाई बंडी बिहिनिया की हिन्दी मेantarvasna rape behenaunty na pass dakar chudiya khaneससुर -बहु की चूत चुदाई कीहिन्दी कहानीmami ki Gaand faadi khet me ki kahani in hindiचची की लड़की शालू की चुदाई अंतर्वासनाsex kahani mom chakar me bari didi chodiwww.sharee blaus padosi suvagrat kamukta.coबुआ के साथ चोदाschool bus me jbrdsti sex ki kahaniBoltekhani . comsax saheli das pormnew sex hindi setori antrvasnabuaa ko chodasex videoristo me hindi sex kahaniहोठो से चुदाइ करते हुए विडियोMalis kar ke cudaibhain ko baihos kar Kai choda xnxn