दोस्त की माँ और बहन की चुदाई

 
loading...

आपको आज मैं अपने जीवन में घटी एक सच्ची घटना को,  जिसे मैं खुद अपने शब्दों मैं लिखने का प्रयास कर रहा हूँ बता रहा हूँ और उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को मेरी यह कहानी वासना से भर देगी।
मैं पहली बार लिख रहा हूँ इसलिए आपके मेल व सुझाव का इन्तजार करूँगा।
मेरी उम्र अब 28 है मेरा कद पांच फिट नौ इंच है और शरीर की बनावट औसत है।
मेरे लण्ड का नाप 6.5 इंच है।


अब मैं अपनी कहानी पर आता हूँ।
बात उन दिनों की है जब मैं स्नातकी के दूसरे वर्ष में था।
तभी मेरी मुलाकात मेरे कॉलेज में पढ़ने वाले संजय से हुई, वो मेरी ही क्लास में पढ़ता था।
मुझे पता चला कि वो मेरे ही घर के पास, लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर रहता है।
धीरे-धीरे हमारी दोस्ती बढ़ती गई और हम अक्सर साथ में मूवी देखने और घूमने जाने लगे।
जब हम स्नातक के तीसरे वर्ष में पहुँचे तो मेरे और उसके बीच की दोस्ती इतनी बढ़ गई कि लोग हमसे जलते थे।
एक दिन अचानक मेरी मुलाकात उसके घर के पास हुई और वो मुझे अपने घर चलने के लिए जिद करने लगा।
मैंने भी उसको मना नहीं किया क्योंकि मैं इसके पहले कभी भी उसके घर नहीं गया था, तो मैं भी उसके घर वालों से मिलने के लिए बहुत उत्सुक था।
जब हम घर पहुँचे तो दरवाजा आंटी जी ने खोला। जैसे ही गेट खुला वैसे ही मेरा मुँह खुला का खुला रह गया।
क्या सौंदर्य था उसका.. मैं उसे शब्दों में बयान ही नहीं कर सकता।
तभी संजय ने उनसे बोला- माँ.. यह राहुल है और हम काफी अच्छे दोस्त हैं।
तो उसकी माँ ने हमें अन्दर आने को बोला।
तब जाकर मुझे होश आया कि मैं अपने दोस्त के साथ हूँ और अपने सुनहरे सपनों से बाहर आते हुए मैंने बड़ी हड़बड़ाहट के साथ उनको ‘हैलो’ बोला और अन्दर जाकर सोफे पर बैठ कर संजय से बात करने लगा।
तभी अचानक मेरी नज़र उसकी बहन पर पड़ी जो कि मुझसे केवल 2 साल छोटी थी।
क्या बताऊँ.. उसकी माँ और उसकी बहन दोनों ही एक से बढ़ कर एक माल थीं।
फिर संजय से मैंने उसके परिवार के बाकी लोगों के बारे में पूछा।
तो उसने बोला- हम चार लोग है मैं, बहन और मेरे माता-पिता।
उसके पिता का नाम राधेश्याम है, माँ का नाम रागनी और बहन का नाम प्राची था।तभी उसकी माँ मेरे और संजय के लिए चाय लाई और मेरी तरफ कप बढ़ाने के लिए जैसे ही झुकी कि अचानक उसका पल्लू नीचे गिर गया, जिससे उसके 40 नाप के मखमली मम्मे मेरी आँखों के सामने आ गए और मैं उन्हें देखता ही रह गया।
मेरा मन तो किया कि इन्हें पकड़ कर अभी इसका सारा रस चूस कर गुठली बना दूँ।
लेकिन मेरी इच्छा दबी रह गई क्योंकि मेरा दोस्त भी साथ में था और हम काफी अच्छे दोस्त थे।
मेरे दोस्त की माँ दिखने में बहुत ही आकर्षक और जवान हुस्न की मल्लिका थी।
उसकी उम्र उस समय लगभग 40 या 42 होगी, लेकिन वो अपने आपको इतना संवार कर रखे हुए थी कि लगता ही नहीं था कि वो दो बच्चों की माँ भी है।
वो तो बस 30 की ही लग रही थी।
उसके लम्बे काले बाल उसके नितम्बों तक आते थे और उसके नितम्ब इतने अच्छे आकार में थे कि अच्छे-अच्छों का लौड़ा खड़ा कर दे, फिर मैं क्या था?
फिर उन्होंने पल्लू सही करते हुए मेरी ओर कप लेने का इशारा किया तो मैंने जैसे ही हाथ आगे बढ़ाया, उनका हाथ मेरे हाथ से टकरा गया।
हाय… क्या मुलायम हाथ थे।
उनके स्पर्श मात्र से मेरे बदन में एक बिजली सी दौड़ गई और अचानक मेरा लौड़ा तनाव में आने लगा।
खैर.. जैसे-तैसे मैंने खुद पर संयम किया लेकिन उसकी माँ ने मेरे खड़े लण्ड को देख लिया और एक मुस्कान छोड़ कर वहाँ से चली गई।
फिर मेरी और संजय की बातचीत सामान्य तरीके से होने लगी।
उसने बताया उसके पिता सरकारी नौकरी करते हैं और हफ्ते में कभी-कभार ही अपने परिवार के साथ रह पाते हैं।
उसकी बहन जो बारहवीं क्लास में पढ़ रही थी।
मैं आपको प्राची के बारे मैं बताना ही भूल गया।
आज तो उसकी शादी को दो साल हो गए, पर उस समय वो केवल 19 साल की थी।
जब मैंने उसे पहली बार देखा था और देखता ही रह गया था।
वो परी की तरह दिखती थी उसके लम्बे बाल, कमर तक थे।
उसकी बड़ी-बड़ी आँखें, उस समय उसके स्तन 32 इंच के रहे होंगे।
मतलब उसका हुस्न क़यामत ढहाने के लिए काफी था।
उसका साइज 32-27-32 था।
उसको मैंने कैसे चोदा, यह बाद में बताऊँगा।
फिर हमने चाय खत्म की और मैं उसके घर से सीधे अपने घर की ओर चल दिया।
घर पहुँचते ही मैंने अपने बाथरूम में रागनी और प्राची के नाम की मुट्ठ मारी, तब जाकर मेरे लण्ड को कुछ आराम मिला।
शाम हो गई थी लेकिन मेरी आँखों के सामने से उन दोनों के चेहरे हटने का नाम ही नहीं ले रहे थे।
जैसे-तैसे रात हुई, मेरी माँ ने मुझे बुलाया और कहा- क्या बात है.. आज कुछ बोल क्यों नहीं रहे हो?
तो मैंने उन्हें बोला- आज तबियत कुछ ठीक नहीं लग रही है।
इस पर उन्होंने मुझे एक दवाई दी और खाना खिला कर सोने के लिए बोला, तो मैं चुपचाप आकर अपने कमरे में लेट गया, तब शायद 10:30 बजे थे।
कमरे मे लेटते ही मुझे फिर से उनके चेहरे परेशान करने लगे और मेरा हाथ कब मेरे लोअर में चला गया मुझे पता ही न चला और लोअर में ही फिर एक बार झड़ गया, तब होश आया।
फिर मैं उठा और बाथरूम में जाकर मैंने अपने लण्ड को साफ़ किया और दूसरा लोअर पहन कर सो गया।
अगले दिन जब मैं सोकर उठा तो देखा मेरा लोअर फिर से गीला था।
शायद रात को मेरे सपनों में वो दोनों फिर से आ गई होंगी।
फिर मैं सीधे बाथरूम गया और नहा-धोकर सीधा माँ के पास गया और उनसे नाश्ता देने के बोला क्योंकि कॉलेज के लिए लेट हो रहा था।
फिर मैं नाश्ता करके कॉलेज पहुँच गया और संजय से पूछा- तुम्हारे घर मैं कल पहली बार आया था, तो तुम्हारी माँ और बहन को कैसा लगा?
तो उसने बोला- उसकी माँ ने मेरे जाने के बाद उससे बोली कि तुमने बहुत ही शरीफ और अच्छे लड़के से दोस्ती की है। आज से तुम दोनों अच्छे दोस्त की तरह ही जिंदगी भर रहना।
मैंने अपने होंठों पर मुस्कान बिखेरी।
वो आगे यह भी बोला- तुझे माँ ने रात के खाने पर आज बुलाया है।
तो मुझे मन ही मन बहुत ही खुशी हुई ऐसा लगा जैसे रागनी को चोदने की मेरी इच्छा जरूर पूरी होगी।
फिर मैं कॉलेज खत्म होने का इन्तजार करने लगा और फिर घर जाते मैंने शेव किया और माँ से बोला- आज रात का खाना मैं अपने दोस्त के यहाँ से ही खा कर आऊँगा, आप मेरे लिए इन्तजार मत करना। आप और पापा वक्त से खाना खा लेना।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


bhaiya bhabhi sexy video bhaiya mein Dum nahi rehta haiचद चूदाई रेफxnxxdehat gharबि एफ कि कहानी पडने वालाससस बूर हिनदी बालसोने के बाद जबरन चोदाxxx khaneegf ke seel todi bad pr khun nekala chut sapariwar me chudai ke bhukhe or nange logऔरत का आपने देवर के साथ चुदावाती हुई विडीयोAntervasana bhikharan randihndi sex comxxx com bade dond wale randee yo kee deviकूते को केसे सेकस सीखयछोड़ो भाई कहानीबहनभाई से बोली मेरे होते भाभी की कया जरूरत है सेसी कहानीdesi grup sex kahanichudai ki kahnibahbi cohde ki kahniyaभाई.बहेन.कि.सेक्सी.इसटोरीwww.latest non veg chudai ki hindi kahaniya.comwww.xxx.iandian.babi.ki.chodi.khaninurse ke sath maze hospital main storyhindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. antarvasna com. kamukta com/हर ईनसान चुत के लिये परेसानपरिवार सेक्स कहानियों 2018 सभीचोदाइ कहानीxxxzcom sexsi video ladkon ka rep garl seurdu sexy stories chachihot sex kahani hindiसगी विधवा बहन ने चोदने लिए मजबूर कियाxxx video hindi me padana hai bhabhi ko chodeladki ke pesab ke ghar me land gusayawww.kamuktasex.combhude mualimo ne chodaHindi storixxxzmama ke.ghar me samuhik chudai kahaniyarealhindosexstoryporn Hindi kuwari chut salwar wali jabardasti Dard Se chalane wali Khoon nikalaXxx chudai ki kahani with photoदामाद ने सास को नंगा कर के खूब चोदा ईबीयनBidhaba bhabhi ki jabardasti chudai 2018 hindi kahanibhatiji or bibi ki chudae ek sathbadla behan se se storyhinadi sex storyXXX KAHINE Hindirakhi ka tohfa xxx storychudai gav ki anfhi ldki kigav me chchi or dadi ki chodai khaniyapados ke bhbe xxx satoresax davar babi jath opan rab jbarjastiबहु के साथ चुत की मस्ती जन्मदिन पर कहानी दीदी हिंदी कहाणी xxxसेकस कि कहानियाantarvasna sasu ma ki bra97 SAL KI LADY KI CUDAI KI KHANIbhai ne choot fadi sex story mp3. Download madwww xxxsadi sudastori biwi ko khet me chudwaya oxssipanti sex khani fotoदेशी दुलाहन चोदाई बीडीओ हिन्दीbhai bhen ki cudai bapne dekhneki x videos comkahani sexy sister chahca ki ladki bhai ne pucho apni chut ki seal kisse tudwaiसेक्सी कहानी हिंदी मैpariwar me chudai ke bhukhe or nange logpariwar me chudai ke bhukhe or nange logdevar babi ki sex khani v paregnent hone par ghar ke dekhane parsexykhaniya2018बूर मे जोर से दरद नंगाbarish ke dino me biwi or sas ke sath piknic photo ke sath chudai kahani 1 2 3antervasna khaney or pic चुत मे से पानी.निकल ना जोर से ३ जीबी विडीयोXXX KHANIकुवारि लडकि किसेकसि फिलमsexy didi story hindi me with photoxxxx.hindi.longwej.bap.beti.sexx.free.videoxxx story hindi meगालियों वाली च**** kamukta.combhatije 7e gand chodai kahaniगाडी डराईवर की देसी चूदाईचोदाई भाभीxzxxsaxx kahani comमुंबई सुन्दर लड़की लम्बी पतली चुत सैकसीविडीयो आनलाईन डाउनलोड फोनchacheri bhabi ki moti chuchi desi sexstories