तुझे ही हक़ है मेरी चूत मारने का

 
loading...

हेल्लो दोस्तो, मेरा नाम स्नेहा है और यह मेरी कहानी है।

कहानी थोड़ी सच्ची है और थोडा मसाला डाला है, ताकि आपको चटपटी लगे।

तो कृपया लड़के अपने लण्ड हाथों में ले लो और सभी बहनें चूत में उंगली घुसा लें।

मेरे परिवार में कुल मिला कर चार लोग हैं, मेरे मम्मी-डैडी, भाई और मैं।

भाई मुझसे छोटा है और वो दसवीं में है और मैं बारहवीं कक्षा में।

हमारा घर काफी बड़ा है, मम्मी और डैडी दोनों जॉब करते हैं और भाई और मेरा अलग-अलग कमरा है।

जानती हूँ, क्या सोच रहे हो आप लोग, साली का कमरा अलग है फिर चूदी कैसे अपने भाई से?

अरे बाबा, सब बताउंगी पूरी कहानी तो पढो।पहली चुदाई, हस्तमैथुन

मेरा बदन दुबला-पतला है और मेरे बूब्स भी छोटे है, मेरा भाई मुझसे छोटा है और मेरे ही जैसा दुबला-पतला है।

मैं स्कूल से आने पर अक्सर घर का कुछ काम कर लेती थी, ताकि मम्मी को थोड़ी मदद मिले, जैसे सूखे हुए कपड़े उठा लेना और खाना बनाने की तैयारी कर लेना, वगेरह-वगेरह।

मुझे अक्सर मेरी चड्डी गीली मिलती थी जैसे उसे अभी-अभी धोया हो, जबकी बाकी सब कपड़े सूखे हुए रहते।

शुरू में मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया पर एक दिन मुझे मेरे भाई के कमरे से मेरी चड्डी मिली, जिस पर कुछ चिप-चिपा था।

मुझे समझने में देर नहीं लगी कि मेरे भाई ने मेरे चड्डी पर मुठ मारी है।

मैंने जल्दी से वो चड्डी उठाई और अपने कमरे में गई, कमरा बंद करके मैंने अपनी पहनी हुई चड्डी निकाल के मेरे भाई की मुठ मारी हुई चड्डी पहन ली।

हाय, कितना अच्छा लग रहा था, मैंने वैसे ही चड्डी पहने हुए उपर से चूत रगडनी चालू कर दी। कुछ ही देर में मेरे भाई और मेरा पानी एक हो गया था।

मैं सोचने लगी – मेरा पागल भाई चड्डी में मुठ मरता है, पागल कहीं का अपनी बहन की चूत की उसे कोई परवाह ही नहीं।

उस दिन से मैं रोज मेरे भाई के रूम में जाकर उसकी मूठ मारी हुई चड्डी लेकर आती और पहनती थी।

उसे भी शायद पता चल गया था कि मैं जान गई हूँ, वह मेरी चड्डी में मूठ मारता है।

अब उस बेवकूफ ने डर के मारे मेरी चड्डी पर मुठ मरना बंद कर दिया।

उसकी इस हरकत से मैं बेचैन हो गई थी, फिर मैं ही एक दिन उसके रूम में गई और कहा – राहुल, तुम्हारे पास वाली दवा कहाँ है?

वह मासूमियत से बोला – कैसी दवा दीदी?

मैं अनजान बनते हुए बोली – अरे वोही दवा जो तुम मेरे चड्डी पर लगते थे, बहुत असरदार दवा है, वह, मुझे वहाँ खुजली होती थी, जो बिलकुल बंद हो गई अब।

वह बहुत ज़्यादा डर गया था, उसे समझ नहीं आ रहा था कि वह क्या कहे।

मैं भी जब कुछ समझ नहीँ पाई कि बात कैसे आगे बढ़ाई जाए तो मैं उस पर ज़ोर से चिल्लाई – देता है या माँ को बुलाऊँ।

वह रोने लगा और बोला – दीदी, वह दवाई नहीं थी मेरे सुसु में से निकला हुआ पानी था।

मैं मन ही मन हंस रही थी पर मैंने हैरान होते हुए कहा – क्या तेरा पेशाब था वह।

वह बोला – नहीं दीदी, पेशाब नहीं… वह मैं जब अपने सुसु को हिलाता हूँ तो उसमे से सफ़ेद चिप चिपाहट वाला पानी निकलता है।

मैं हैरान होने का नाटक करने लगा और उससे पूछा – झूठ मत बोल, नहीं देनी है तो मत दे, ऐसा भी कभी होता है।

दीदी, आपकी कसम सच में ऐसा ही होता है, मैं झूठ नहीं बोल रहा हूँ। बेचारा मासूम चेहरा करके मुझे यकीन दिला रहां था।

थोड़ी देर चुप रह कर मैंने उसे कहा – राहुल, तुम कह रहे हो तो सच ही होगा, चलो मुझे निकाल के दिखाओ पानी।

वह डर गया – दीदी, मुझे नंगा होना पड़ेगा आप समझ नहीं रही हो, पानी मेरी सुसु से निकलता है।

मैंने अपने कपडे निकाल के फेक दिए और कहा – लो मैं नंगी हो गई, अब चलो अच्छे भाई बनो और कपडे निकालो।

बेचारा नीचे देख रहा था, अब मुझे गुस्सा आ रहा था, मैंने उसे थप्पड़ मारा और उसके कपडे निकालने लगी, उसकी आँखों में आँसू आ गए थे।

पर वह बेचारा समझ नहीं रहा था कि यह सब उसके भले के लिए ही तो मैं कर रही थी। मुझे सिर्फ लण्ड मिलने वाला था पर उसे तो चूत, गांड और मेरे मुँह में पानी डालने का मौका मिलने वाला था।

अब वह मेरे सामने नंगा था और मैं उसके आगे, मैं पहली बार किसी लड़के को नंगा देख रही थी, उसके लण्ड को हाथ में लेकर मैंने कहा – राहुल, क्या इसी से दवाई निकलती है?

हाँ दीदी, मगर उसके लिए इसे आगे-पीछे करना पड़ता है, इतना कहके वह अपने लण्ड को हाथ में पकड़ कर हिलाने लगा।

मैंने उसे रोक और लण्ड अपने हाथ में ले लिया।

राहुल, मुझे बताओ में करती हूँ, दवाई मुझे लेनी है ना – इतना कहके मैंने उसका लण्ड अपने मुँह में लिया।

मैंने सिर्फ इतना सुना कि मेरे भाई ने कहा – दीदी, नहीं… पर उसकी कौन सुनने वाला था।

मैं उसके लण्ड को मुँह में लेकर अपने मुँह से आगे-पीछे करने लगी, हाय कितना अच्छा लग रहा था।

राहुल, आओ बिस्तर पर चलो, देखो तुम मेरी सुसु को चाटो और मैं तुम्हारे सुसु को चाटती हूँ, मेरी सुसु में से भी दवाई निकलती है, वह तुम्हारे बहुत काम की है।

आप को कैसे बताऊँ, क्या माहौल था वह, हम सगे भाई-बहन एक-दूसरे पर लेटे हुए, पसीने से बदन गीला हो रहा था, हाय रे!!! क्या बात थी उस पल की, बहनों, चूत चुदवाने का सही मज़ा तो अपने भाई से ही।

पसीने और उसके लण्ड की खुशबू ने मुझे दीवाना बना दिया था, तभी भाई बोला – दीदी, पानी निकलने वाला है, मुँह अलग कर लो।

मैंने कहा – तू चिंता न कर यह पानी विटामिन वाला है… तू मुँह में ही गिरा दे। इस से तेरी बहन खुबसूरत हो जाएगी।

मेरे इतना कहने कि देर थी कि वह मेरे मुँह में आ चूका था, मैं जितना निगल सकी निगल लिया और फिर उसके लण्ड को मुँह से अलग किया।

अब भी मेरे मुँह में उसका वीर्य था, मैंने उसे नजदीक लिया और किस करने लग गई।

वह कुछ समझ पता, इसके पहले ही मैंने अपनी मुँह से पूरा थूक और वीर्य उसके मुँह में डाल दिया और उसे किस करते हुए उसका मुँह बंद रखा, बिचारे को वह सब निगलना पड़ा।

अब हम बेड पर लेटे हुए थे, बिल्कुल थके हुए।

ना जाने उसे क्या हुआ, वह उठा और मेरी चूत को चाटने लगा, मैंने पुछा – क्या कर रहा है?

वो बोला – दीदी, आपने मेरा पानी निकाला, अब मेरा फ़र्ज़ है कि मैं भी आपका पानी निकालूँ।

मैंने कहा – हाँ राहुल मेरे भाई, निकाल पानी और याद रख तुझे मेरी चूत भी मारनी है, मेरा भय्याराजा है ना तू, तुझे ही हक़ है मेरी चूत मारने का।

अब वह चूत चाट रहा था और मैं हाय रे… ऊह्ह… आह्ह्ह्ह… मर गई, राहुल चाट ले रे… ऒह्ह्ह्ह… मजा आ रहा है… मार ले अपनी बहन की चूत… कह रही थी।

कैसे मेरी चूत में मेरे सगे भाई का लण्ड घुसा और क्या बेवकूफी हमने की…

यह अगर जानना है तो एम एस एस पड़ते रहिये…

तब तक यह बताइए कि अगर भाई-बहन की चुदाई ग़लत है तो आख़िर भाई का लण्ड बहन की चूत देख कर खड़ा ही क्यूँ होता है, या बहनों की चूत भाइयों के लण्ड देख कर गीली ही क्यूँ होती है?



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


xxx moti aurt ko kere ke khet me chodabhatije 7e gand chodai kahaninew kamukta hindi xxx sexy story witn xxx photossexikhnixxx cuhudai ful hinde mdoodhwali chudaibangali,bowdi,को तेल लगा के बुरkamukta maa gangbang principalwww.hinde sex kahane.compariwar me chudai ke bhukhe or nange logbhiar या पंजाब की समलैंगिक हिंदी सेक्सी कहानियाँ कॉमaunties ko ek sath chudai ki hindi khaniantervasnaMaa ko sarab pilaker choda xxx sex storymastram ki free kahaniya in hindiGuru p xxx khani bur garam codaae hende vdeohindi sakse kahnekamukta new storyबारिश में सामूहिक चुदाईMAI CHILATI RAHI PAR CHODTE RAHEsexi kahaniyaहिन्दी सेक्स कहानी 10"हब्शी लौड़े से नाजुक चूत की चूदाईma kebubs ka dud xxx hindi storyLadki ki chut gili na ho to ghusne me dudhwale aur naukar ne maa ko group me chodaमेरी चूत का दीवाना मेरा देवर हिंदी सेक्सी स्टोरीbhai or ma xxxxi storyलड चुत मे डलने कि सेकशि विडियोxxx chodai sayri kahani hindihinde xxx khine bv group machaprasin ki hot sex kahani Ladki nd ghode se chudva hindi khaniyachudkad sexy pariwar ki kahanikahaniya chodai ki beti baap se bahane sesusksex story in hindikamukta antarvasna.comचुदने का मजाpadosike bivike sath sexy zavazavi katha.com insxey khaneचुदने की नगी बातेmuslim girl gandi kahaniववव िन्दं माँ गण्ड लुंड क्सक्स खाने कॉमWww.indiansex bahu bhabhi kae sath suhagraat jabardasti choda hindi kahaniya with photos.comजन्मदिन पर चाचा से चुदीsakse kahane cut land kebur.chodai.ki.kahaniya.hinedi.mexxxchudaivideokahani. storysavita bhabhi ki hindi storyBHAI BAHAN CHUDAI ki lambi KAHANIYAmami or behen ghar mai nanga rakhaantarvasna rape behengandi sex storysexy bhabhi ne apni ko chudwaya story convince karke xxx Hindi video MP3 BF ICD 10 saal ki ladki kixnxxx maaa na bata ko ki aa majburxxx.ldki.ki.ki.khani.uhdeo.ma.xxx.gauo.ki.hindi.khani.hindi antarwasna xxxstorysmummy muje chuth dhikayi sex storiesbarish ma hui maa ki thukai foto k sathsambhog kahani hindijija sali /sasur bahurani /nokarani/babhi ki bahan ki kahaniantarvasna.sex.story.nudexnx hendi merit bbabhiक्सक्सक्स चाची कि गांड मारी हिंदी विडिओपडोसन भाभी के बड़े बोबे बलाऊज में मोटी गांड गोरा चेहराpyassibhabhi.com sex samacharfather.beti.kahani.nude.hindiauratkisexkhaniman br ke galiyo ke sath chudwana khahanipdos vali nangi bhabikolej me ladke ka panii chuta phier cudai xxxbhai ke so jaane ke bad bhabhi mujhse apni gand marwai kahanibhai se chudai rat main new kahani