कविता के कड़क चुचे



loading...

Gaaw ki chudasi laundiya ke kadak chuche – Hindi kahani

कविता हमारे नए किरायेदार बंसीलाल की बेटी थी, बंसीलाल वैसे तो अकेला ही किराए पर रहता था हमारे घर में लेकिन कविता को वो पहली बार गाँव से ले कर आया था कारण यह की ग्रेजुएशन के लिए हमारे शहर में ही अच्छे कॉलेज थे. मेरी मम्मी कविता को बहुत प्यार करती थी और अपनी बेटी की तरह ही रखती थी, बंसीलाल के कहने पर मैं भी कविता की कभी कभी हेल्प कर दिया करता था और ये हेल्प एक दिन ऐसी जगह ले गयी जहाँ कविता नए मेरी वर्जिनिटी तोड़कर मेरी हेल्प कर दी. दरअसल कविता गाँव से आई थी तो मैंने सोचा की इसे क्या पता होगा इस सब के बारे में लेकिन एक दिन जब मैं नहाकर छत पर कपडे सुखाने गया तो देखा कि कविता अपने कमरे में गुनगुना रही थी, मैंने खिड़की से झाँका तो देखा की कविता अपनी चूत में ऊँगली कर रही अहि और अपने चूचों को सहलाते हुए गुनगुना रही है.

मैं ठिठका और जैसे ही पलटा तो मेरा तौलिया खुल गया जिसे संभालने के चक्कर में मैंने बाल्टी हाथ से छोड़ दी और कविता को पता लग गया कि बाहर कोई है, कविता ने तुरंत अपनी मैक्सी पहनी और वो बाहर आई. मैं ना तो सीढियाँ उतर पाया और ना ही ढंग से तौलिया बाँध पाया और वो कमबख्त तौलिया फिर से खुल गया तो कविता की हंसी छूट गयी, कविता नए मुझे अपने पास बुलाया और कमरे में ले जा कर बोली “तुमने अभी जो देखा वो किसी से मत बताना” मैंने कहा तुम गन्दी हरकतें करती हो” तो वो बोली जब कुछ नहीं मिलता तो हाथ से ही करना पड़ता है ना” मैंने कहा “हरकत तो फिर भी गन्दी ही है ना”.  उस दिन से मेरे और कविता के बीच एक अनजाना सा खिंचाव हो गया था, मैं जब कभी छत पर जाता तो कविता को अवॉयड करता लेकिन बार बार उसकी खिड़की में झाँकने की इच्छा होती थी.

एक दिन मैं फिर उसकी खिड़की में से झाँक रहा था और वो नज़र नहीं आई तो उछल उछल कर झाँकने लगा और तभी मेरे कंधे पर कविता नए हाथ रख कर कहा “गलत जगह उछल रहे हो” ये कह कर वो मुझे अपने कमरे में ले आई खिड़की का पर्दा लगा कर उसने अपनी मैक्सी उतार दी. अंदर कविता ने कुछ नहीं पहन रखा था और उसके निप्प्ल्स भी खड़े हुए मुझे निमंत्रण दे रहे थे, मैं वहां से जाने लगा लेकिन पता नहीं क्या सोच कर मुड़ा और कविता के रसीले अंगूरों जैसे निप्प्ल्स को चूसने ला तो वो बोली “धीरे धीरे चूसो अभी दर्द हो रहा है. ये सुन कर मैंने हौल हौले से उसके निप्प्ल्स चूसने शुरू किये तो उसने मुझसे पूछा “पहले कभी नहीं किया ना ये सब” तो मैंने ना में सर हिलाया और इशारे में उस से पूछा अगर उसने किया है तो. कविता मुस्कुराई और बोली “गाँव में चुदाई आम बात है और आप जल्दी ही सीख जाते हो लेकिन बस किसी को पता चल गया तो बड़ा बवाल होता है” ये कह कर उसने मेरे जिस्म को चूमना शुरू किया और मेरे एक एक कपडे को सेक्सी तरीके से उतार कर मेरे जिस्म को अपनी जीभ से चाटा भी, मुझे आश्चर्य हो रहा था की सीधी सादी गाँव की लड़की कैसे कैसे कर रही है.

बहरहाल मुझे मज़ा आ रहा था और मैंने उसकी निप्प्ल्स को चूसना छोड़ उसके होंठ चूमने शुरू किये हम दोनों को ही इस सब में मज़ा आरहा था, उसकी चूत पर हालाँकि बाल थे लेकिन मैंने कभी चूत देखि नहीं थी तो मुझे बुरा नहीं लगा और मैंने उसकी चूत को भी जम कर चूमा और उसके कहने पर अपनी जीभ से उसके बताये स्थान को चाटा भी. उसने कहा ये भगनासा है और यही सबसे ज्यादा ज़रूरी है तो मैंने उसे और अच्छी तरह से चाटा, अब कविता गर्म हो ह्चुकी थी जिसका सबूत था उसकी चूत से रिश्ता गरम गुनगुना पदार्थ कविता नए  दीवार पर हाथ रखे और मुझे अपने पीछे आने को कहा और थोड़ी जद्दोजहद के बाद मेरा लंड उसकी चूत के ठिकाने पर था, अब कविता नए कहा “बस घुसा ही दो अब वेट मत करो” तो मैंने एक ही धक्के में अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

कविता पहले से अनुभवी थी सो उसे इतना दर्द नहीं हुआ बस हलकी सी आवाज़ निकली, मैं उसे चोदते समय बहुत सी बातें सोच रहां था और पूछना भी चाहता था की सबसे पहले उसने कब किया लेकिन धक्के लगाने में इतना मज़ा आरहा था की मैं बस वही करता रहा. कविता शायद थक गेई थी इस लिए वो ज़मीन पर बिछी दरी पर लेट गयी और मुझे अपने ऊपर ले लिया अब फिर से छेड़ ढूँढने की प्रॉब्लम हुई और निवारण भी लेकिन अब हम दोनों आराम से चुदाई मचा रहे थे. कविता मेरे लंड को अपनी चूत में फंसाकर कमर हिला हिला कर चुदवा रही थी और मैं उसे चोदते समय भी उसके चूचों का रस पी रहा था सपेसिअल्ली उसके निप्प्ल्स जो मुझे अब भी बड़े रस भरे लग रहे थे. हम दोनों ही झड़ गए और एक दुसरे पर पड़े रहे उस दिन मैं कॉलेज भी नहीं गया और दिन भर बस कविता को चोदने में ही बिताया, शाम को बंसीलाल के आने से पहले मैं वहां से निकल लिया, लेकिन अब तो रोज़ मौका पा कर मैं और कविता चुदाई करते और मैंने उसके रस भरे निप्प्ल्स का मज़ा लेता.



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


hindi sex bhbhi bahne ke sat jabarjasati ki haeANTARVASANA DIDI KA BAG MA CONDMMami ki adla badli Karke chudai ki kahani maa paaमुझे पापा और उनके दोस्तों ने मिलकर छोड़ासेकसी कहानी दीदी केचुत पे बालhindi ma saxe khaneyakotta kotiya ki sax khanihindi sexy chalu sister kahaniac macanic aur plumber ne chodabaap baeti sexkahaniyauncle ne haath phera storyaame ke ubhari gand chudai khani pic.chut paa war sexxxxkha nangi rehti haiक्सक्सक्स फुल स्पीड कड़ाईचुदँई का मजाhindesixe.comhttp://bktrade.ru/tag/mai-chudi/page/9/seaxe video kahaniSex stori hindi kamuktaCHUT KAHANIxnxn सारिका चाची सेक्स वीडियो डाउनलोडbetio ki adla badli kar ke chudaisalhaj ko seduce karke chudai kahanimaa ne apne beti,bete ko chut chudaai ki training deदिदी की चुदाई की मोटे लड सेwww.sex estori bahi n b ko balikmil kar choda hindi inचुदाई हज़ारो सेsuhagrat Rat K6 seal pack videonew kamukta com tagआटि कि चूदाइ जबर जस्तकालै लढ सैकसीक्सक्सक्स हद भभी चिलाय हिन्दीधोबी मा अर बैटा का चुदाई कहानी XXXXXArmy aunty patni ko sex xnnmbehan ko chodna.jaiz hyमां के सामने अपनी बहनों को जमकर चोदाxxx khani hinde meSexy Nonveg kahani soti hui behensexy kahaniya kamukta.com Hindi mai Naukri chodne waliSEX KAHANI NOKARANI KO MUTTI MARTI PAKDIमाँ को किचन की स्लैब पे चोदाकुते।से।चोदाई।काहनीhindi ma saxe khaneyachudae kathakahani hindi phuya ne sexnnapale xxx sote hue ldke ke cut mareचाची के सात ग्रुप सेक्सbus me chacha ki god me mazeParivarik group chudai story gavn ki khet gher mehindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/tag/page no 55--89--211--320hindesixy.comristoma.sxc.hinde.khaniejija ne sale ko ninda mia choda xx hinde.sexyantar.vasna.khaneya.hindesister sexy story in hindihot collage girl/nokarani/bus me hot ladki ki kahanipados khetvali aorat ko khet me choda kamukta sex storyngi cuut chote bcce ke photohindesixe.comhindisxestroywww.xxx.bihari.bhabi.chodi.khani.video.comsexyhotchachiwww chikne chamele ki kutte ke sath chudai story com.,सेकसी कहानी बहन बहयhindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/tag/page no 55--89--211--320didi ko madat ke badle chudaisxy hinde kahane hindi ma saxe khaneyamaa sadi me chudiwww hindi sexi kahanibhai se chudai rat main new kahaniखेत मे सास जवाई xxx kahaniKALI ANTI XXX KAHANI HINDI KHET MEantarvasnaRandi ke muh me land xxx Hindi audio aur andar loXnxx door bhanno kee sex storey hindy janwar kah saath ladkj ka saxywww mai air meri doctar bahan ki part 1 xxx khani commaa beti aur beta ek hindi xxxx storySex indian maa beta ki chudai urdu sex storrisnanvej bhai bahan hindi kahani kuwari bur images