अंशिका की मस्त चुदाई



loading...

हेलो दोस्तों, मेरा नाम दीपक है. मेरी उम्र २८ साल है, मैं गुडगांव में इंजीनियर हूं. मेरी लाइफ में लड़कियां आती रहती है, और खुदा कसम आज तक हर लड़की को मैंने पूरा सेटीसफाय कर के ही भेजा हे.

पर यह चुदाई का चस्का ऐसा लगा है की मुझे आज रोज नयी चूत चाहिए, जवान नरम, जिस्माना गोश्त और उसकी महक मुझे पागल बना देती है.

पर एक टाइम था, मैं एक सीधा साधा लड़का था, लड़कियों से सिर्फ दोस्ती करता था और उनके जिस्मों से खेलना तो मैंने सोचा भी नहीं था, बस एक बार क्या गलती हुई आदत ही पड़ गई, वह वाकया में आपको सुनाता हूं.

मोदीनगर में मेरी ममेरी बहन अंशिका रहती है. मेरे से ३ साल छोटी है. आजकल तो मोटी हो गई है पर आज से ९ साल पहले पतली लंबी हुआ करती थी.

वह तब १८ साल की थी जब मैं गर्मियों की छुट्टियों में मोदीनगर आया था, बस स्टैंड से उतर के मैंने उसके घर समीर विहार पहुंचा. मुझे देखते ही उसने मुझे गले लगा लिया, गोरी और पतली तो थी, फिगर भी बहुत स्लिम था.

जब वह उछल कर मेरे पे लिपटी तो मेरा एकदम सर घूम गया और मेरा मुसल तड़क से खड़ा हो गया था. उसको जब चुभा शरमा के पीछे हट गई, उस के बाद डिनर टेबल तक उसने मेरे से आंखें मिलाई नहीं और वह मेरे पास भी आई नही.

डिनर के बाद हम वोक पर निकल गए, चारों तरफ हरियाली और पेड़ थे, खूबसूरत हवा चल रही थी, उसने टाइट नीली ड्रेस पहन रखी थी, वह बहुत प्यारी लग रही थी. वह बार बार नजर उठा कर मुझे देख रही थी, अब तो मुझसे नहीं रहा गया, अचानक मैंने उसे बाहों में जा कर लिया, वह कसमसाई लेकिन कुछ बोली नहीं.

मैंने उसके बाद उसे चूमना शुरू किया और चूमते चूमते उसके गोरे चिकने गले पर आ गया, मेरे हाथ पहले उसकी पीठ पर ब्रा के हुक को बदलते टटोलते उसकी गांड पर पहुंच गए. भाई क्या बताऊं क्या पतली कमर थी क्या टाइट चुतड थे. पहले सहलाता रहा और फिर दबाने लगा, वह कसमसा रही थी पर मजा भी ले रही थी.

मेरा लंड खड़ा हो गया था और फटने को तैयार था, कच्चा भी गीला होने लगा था साला अंशिका की टांगों के बीच में बार बार टकराने लगा था. मेरे पूरे बदन में आग लगी हुई थी. और ना कुछ सुनाई दे रहा था और ना कुछ दिखाई दे रहा था.

फिर मैंने धीरे से उसके चेहरे को ऊपर किया और उसके गालो को चुमा. वह बस अपने में सिमटी जा रही थी, आखे झुकी हुई थी पर दिखाई दे रहा था कि मजा पूरा ले रही है. उसके होंठ कांप रहे थे. ईतना सुंदर मैंने कभी किसी को देखा नहीं था. मैंने धीरे उसके होठों पर अपने होंठ रख दिए.

उसके होंठ सॉफ्ट और गिले थे सांसों की खुशबू आ रही थी, अंशिका कुछ नहीं बोली, न हिली. मैंने फिर उसका ऊपर का होंठ चूसने शुरू किया, असीम आनंद मिल रहा था.ऐसा लग रहा था कि मैं उड़ रहा हूं, उसका टाइट जिस्म मेरे से चिपका हुआ था और कांप रहा था.

मुझे समझ में आ गया कि गुरु अभी तक रास्ता साफ है, तवा गरम हो रहा है, अब तो पराठा सेकना ही पड़ेगा. बस यही सोच कर मैंने उस के चुतड जोर से भींचे, उस को अपनी तरफ खींचा, मेरा मोटा ठरकी लंड उसकी चूत से टकरा रहा था और रगड रहा था.

साला ऐसा लग रहा था कि इस लोहे को लंड से चिंगारी निकल पड़ेगी. तब मैंने अपनी जबान को उसके मुंह में डाल दीया और उसकी मिठास का पूरा मजा लेने लगा.

यह सिलसिला ५-१० मिनट तक ऐसे ही चला. अब तो हम दोनों भट्टी की तरह जल रहे थे. मैंने एक हाथ उसकी ब्रा में डाल दिया था और उसकी किशमिश को मसलने लगा था. पर मेने जैसे ही दूसरा हाथ उसके उसकी चूत में डाला वह मुझे धक्का देने लगी, लगता है उसकी बर्र में दर्द हो रहा था.

पर मेरी अब तो हालत खराब हो चुकी थी और कोई कंट्रोल नहीं रहा था, मैंने एक दरिंदा बन चुका था, जिसको सिर्फ अंशिका के बदन से अपनी प्यास बुझानी थी. सारे रिश्ते नाते, साथ में खेलना, उसका मुझे राखी बांधना और भैया बुलाना सब में इस आग में भूल चुका था.

मैंने उसको जोर से पकड़ा और नीचे गिरा दिया. अब मैं उसके ऊपर था वह अपने हाथों से मुझे मार रही थी और अपने को बचाने की कोशिश कर रही थी.

मैंने एक हाथ से उसका मुंह दबाया और दूसरे हाथ से उसकी पेंटि निकाल दी, किसी तरह से अपनी पेंट खोली और अपनी जांघो से उसकी जांघे दबा दी. वह छटपटा रही थी पर अब कुछ और नहीं हो सकता था, एक शिकारी अपने जाल में फंसी चिड़िया को कैसे छोड़ सकता है?

मैंने उसकी टांगे चौड़ी कर दी और अपने लंड को उसकी चूत में घुसाने लगा, उसकी चूत सचमुच में टाइट थी, बहुत जोर लगाना पड़ रहा था, और वैसे वो भी गरम हो रही थी और चूत थोड़ा पानी छोड़ने लगी थी.

उसके बाद में पूरा जोर लगा के लंड उसके अंदर घुसा दिया. शायद उसको बहुत दर्द हुआ होगा क्योंकि बहुत तड़प रही थी पर मैं तो अब तो अपने होशोहवस से बाहर हो चुका था.

बस फिर मैंने उसको कब तक चोदा, मुझे भी याद नहीं, बस याद है तो वो हसीन दर्द जो तब तक हर अजीज हरकत से बढ़िया था.

मैं उसके जवान मख्खन जिस्म को तोड़ता मरोडता, हर तरह से उस से खेलता रहा था जब तक मेरे अंदर का ज्वालामुखी फट नहीं गया और मैं उसके बदन पर ढेर नहीं हो गया.

जब होश आया तो वह एक टूटी हुई गुड़िया की तरह पड़ी थी. यह मेरी वासना की देसी कहानी, मैं अपने को कभी माफ नहीं कर पाया पर आग ऐसी लगी की कभी बुजा नहीं पाया.



loading...

और कहानिया

loading...
4 Comments
  1. SATISH KULKARNI
    November 9, 2017 |
  2. November 9, 2017 |
  3. sonu
    November 10, 2017 |
  4. November 10, 2017 |

Online porn video at mobile phone


chachi ka mut aur gua khayaantar wsna khni hindi movies mसबसे खतरनाक चूत चुदाई की कहानियाmaa ki jabrdasti chudai hindi storykahaniyadesigner kar rahi sexxxx www dot com me mumbai randi bhabhi ka phon noxxx maa ke mume chik meraasexi khanimalkin.ko.malik.ne.chudwaya.nuakar.se.bada.land.dekhkar.saxy.kahaniladki ne kuttase chudbai kahani hindimeBHAI BAHAN KI HOLY DIWALI KI SEXY KAHANIमराठीमधून सिटी xxxmalis ke bhane cohoti bhan ki cudai khani with photoदीवाना मे सेकस वीडियो चूतfigar sahlana xxx sexyxxx gori chut seci videoshindi sexy stories antarwasnajiji ne 15 sal ke bhai se chudai karai ki kahanixxxx video बर्थडे बनाते हैं दारू पीकेxxx antarvasna 5 4 2018चोदाइ कहानीxxx jabardasti ki sex story hindi in hindigandisex kahameyachut tadfan lund ka intjar sex xvideos.com.behan ki naghi chut hindi sexn storymere chote lund ne aunty ko kiya mahosh Hindi sex kahaniक्सक्सक्स धोके से छोडा हिंदीDOST KI BAHEN PAR RAPE KIYA SEXY KATHA.new sey store hinde muncle ne dulhan bana seal todi kamukta.comApni sex se bhari gaon ki family member ki roj ki chudai ki kahanisexstoriya.comjiji ne chote bhai se chudai karai ki kahaniनाना के गांव मे मेरी चूदाई हुई की कहानीladki aur ghode kutte ki chudai ki kahani bataye marathi mexxx ki gndi hindi kitabxxx hindi anita kahaniनई शादीशुदा शीतल दीदी की गांड मारीkamukta.cutjeth ji ne choda party me dost ke sathबच्चेदानी sxe hut xxnxगाड़ी वालो कि चूदाई कि काहानीचाचा ने जबरदस्ती मजा लूटाbarish ke din the subhe late uthi teacher sex storydada ji k satha sex khahne hindiबहन मंजू की चुदाई हिंदी मेंwww.didi.ki.sexi.storey.sex.dot.com.xxx nasheli bhabi ka sxy figar bp www.com,लगाई की चुदाईjaldbaazi ka hd desi sex khet or ghar kaantrvasna stoyrizabrdasti fuck krne bli porn videaoहिन्दी चुदाई कहानी घर की तडपती चूतेंVasnasexkahaniyamain dost aur maa 42 page sex storisचोदने।वsex.dede.shtori.tiren.comMami ke boor chudai patna ke tel laga kenandita ki chudai kahaniyama ko choda nighty pehindi sex stories/bhudayiki sex kahaniya. antarvasna com. kamukta com/tag/page 68-98-158-208-318hindi sex kahaniya page 16 to 52 antarvasna kamuktaमाँ और चाची को चोदाहिन्दी सेक्श कहानीया मेरा बेटा मेरी ही चुदाई की फिराक मेपोरन काहानीया हिन्दीxnxx Punjabi foja mai Biwi Mauj meinनजिया सेक्सी कहानी बुर किभांनजी कि चुत मे मामा का लँडbur choda jabardaste gav me balsaf karke bur choda jabardaste gavantarvasna story patni ki saheli se maje liye sex storyबेटे ने रुल रुल के चोदा सैकस कहानी हिदी17 sal ki ladki ki sex hindi storyRealsex stores bap beti vasena .comदिदि की चुदनी का तरीकासेक्सी ओल्ड ऐज चाची नंगी हिंदी कहानियांkamkuta dot com dada ji se chudai storyladki ke bur me kida ghuse sexy video hdwww.saxy hindi stories mastram lund k samundarगांव में जन्नत का मजा (राज शर्मा )लङकी के मुँह मेँ लँड की चुसाई फोटोBap nai apnai betai ko cudha storyxxx हिनदी मे कहानिया पढने के लिएxxx hindi kahani 11 saal ki bahan chodi